'पुरस्कार का मतलब आज भी है पूछ-परख'

अमिताभ बच्चन
Image caption शुक्रवार शाम विज्ञान भवन में अमिताभ बच्चन को सर्वश्रेष्ठ अभिनेता का राष्ट्रीय पुरस्कार दिया गया

68 साल के अमिताभ बच्चन को जब भारत की राष्ट्रपति प्रतिभा देवी सिंह पाटिल ने सर्वश्रेष्ठ अभिनेता के राष्ट्रीय पुरस्कार से सम्मानित किया, तो पूरा का पूरा विज्ञान भवन तालियों की गड़गड़ाहट से गूंज उठा. ये अमिताभ बच्चन का चौथा राष्ट्रीय पुरस्कार है.

इस मौके पर अमिताभ बच्चन की पत्नी जया बच्चन, बेटे अभिषेक बच्चन, बहू ऐश्वर्या राय बच्चन और बेटी श्वेता नंदा भी मौजूद रहे. पूरे कार्यक्रम के दौरान बच्चन परिवार सभी लोगों के आकर्षण का केंद्र बना रहा.

पुरस्कार मिलने से चंद घंटो पहले बीबीसी से ख़ास बात करते हुए अमिताभ ने कहा, "राष्ट्रीय पुरस्कार मिलना गौरव की बात है. मैं जूरी का धन्यवाद अदा करता हूं. पुरस्कार मिलने का मतलब यही है कि अब भी आपकी पूछ परख बनी हुई है."

फ़िल्म 'पा' को सर्वश्रेष्ठ हिंदी फ़िल्म का भी राष्ट्रीय पुरस्कार मिला. फ़िल्म के निर्माता अभिषेक बच्चन का कहना है कि पूरा श्रेय फ़िल्म की टीम को जाता है.

आमिर ख़ान अभिनीत और राजकुमार हीरानी निर्देशित '3 इडियट्स' को सर्वश्रेष्ठ मनोरंजक फ़िल्म का राष्ट्रीय पुरस्कार मिला. फ़िल्म के निर्माता विधु विनोद चोपड़ा कहते हैं, "अच्छी फ़िल्म को अच्छा पुरस्कार मिला. राष्ट्रीय पुरस्कार जैसा बड़ा पुरस्कार '3 इडियट्स' को मिलने से दूसरे फ़िल्मकार भी ऐसी अच्छी फ़िल्में बनाने के लिए उत्साहित होंगे."

'3 इडियट्स' के ही गाने 'बहती हवा सा था वो' के लिए गीतकार स्वानंद किरकिरे को सर्वश्रेष्ठ गीतकार का पुरस्कार मिला. इस मौके पर गायक शान ने ये गाना उपस्थित लोगों के सामने पेश कर उन्हें मंत्रमुग्ध कर दिया.

Image caption '3 इडियट्स' को सर्वश्रेष्ठ मनोरंजक फ़िल्म का राष्ट्रीय पुरस्कार मिला

श्याम बेनेगल की फ़िल्म 'वेल डन अब्बा' को सामाजिक विषय पर बनी सर्वश्रेष्ठ फ़िल्म का पुरस्कार मिला. बेनेगल कहते हैं, "राष्ट्रीय पुरस्कारों का अपना अलग ही महत्तव होता है. ये कोई इवेंट मैनेजमेंट कंपनी द्वारा दिए जाने वाले पुरस्कार नहीं है. ये सरकार द्वारा दिए जाने वाले पुरस्कार हैं. तो ज़ाहिर है मैं बेहद खुश और गौरवान्वित महसूस कर रहा हूं."

राकेश ओमप्रकाश मेहरा की 'दिल्ली 6' को राष्ट्रीय एकता पर बनी सर्वश्रेष्ठ फ़िल्म का पुरस्कार मिला. राकेश ने कहा, "राष्ट्रीय पुरस्कार सबसे बड़े होते हैं, उनकी तो बात ही अलग है. मुझे गर्व है कि 'दिल्ली 6' जिस उद्देश्य को सामने रख कर बनाई गई थी, उसी वजह से उसे ये पुरस्कार मिला."

प्रसिध्द तेलुगू फ़िल्मकार डी रामानायडू को प्रतिष्ठित दादा साहब फाल्के पुरस्कार से सम्मानित किया गया.

संबंधित समाचार