हंसा-हंसा कर मारेंगे तीनों देओल

यमला पगला दीवाना
Image caption फ़िल्म यमला पगला दीवाना में एक साथ दिखेंगे धर्मेंद्र, सनी और बॉबी देओल

पिता धर्मेन्द्र और बेटे सन्नी और बॉबी अपनी आने वाली फ़िल्म में दर्शकों का मनोरंजन एक्शन से नहीं बल्कि कॉमेडी से करेंगे. ये कहना है फ़िल्म ‘यमला पगला दीवाना’ के निर्देशक समीर कार्णिक का.

2007 में फ़िल्म अपने के बाद ये दूसरा मौका है जब ये तीनों एक साथ किसी फ़िल्म में दिखेंगे.

धर्मेन्द्र, सन्नी और बॉबी को एक साथ ‘यमला पगला दीवाना’ में लेने के बारे में समीर कहते हैं, “हमने तीनों को अलग-अलग स्क्रिप्ट सुनाई. तीनों को ही कहानी बहुत पसंद आई. तीनों को एक साथ काम करवाना मुश्किल नहीं था लेकिन चुनौतीपूर्ण ज़रूर था. लेकिन एक बार जब कॉमेडी शुरु हुई तो कोई दिक्कत नहीं आई.”

फ़िल्म में सन्नी देओल कनाडा में रहने वाला एक एन आर आई है जो भारत अपने बिछड़े पिता और भाई को ढूंढने आता है.

फ़िल्म में सन्नी देओल के रोल के बारे में समीर कहते हैं, “सन्नी ज़्यादातर मार-मार कर दर्शकों का मनोरंजन करते हैं लेकिन इस फ़िल्म में वो हंसा-हंसा कर मारेंगे. सन्नी ने अब तक बहुत ज़्यादा कॉमेडी रोल नहीं किए हैं लेकिन कॉमेडी में उनका टाइमिंग बहुत बढ़िया है. असलियत में भी वो बहुत मज़ेदार इंसान हैं.”

वहीं धर्मेन्द्र और बॉबी देओल बनारस के दो ठग बने हैं. धर्मेन्द्र के बारे में समीर कहते हैं, “धर्मेन्द्र फ़िल्म में एक ठग बने हैं इसलिए हमने उन्हें एक चालू किस्म की लुक दी है.”

फ़िल्म में एक नई हीरोइन कुलराज रंधावा दिखेंगी. वो बॉबी देओल की प्रेमिका बनी हैं.

फ़िल्म की पृष्ठभूमि पंजाब में है. समीर कहते हैं, “जहां पंजाब हो और धर्मेन्द्र, सन्नी और बॉबी हों वहां मेला तो लगना ही है. हमने इंदौर से करीब नब्बे किलोमीटर दूर एक गांव महेश्वर में शूटिंग की है. वहां बड़ी तादाद में लोग इन्हें देखने आते थे. चाहे शूटिंग से पहले होटल के बाहर या फिर शूटिंग के बाद, ये तीनों फ़ैन्स से ज़रूर मिलते थे.”

फ़िल्म का संगीत पांच कंपोज़र्स ने बनाया है. इनमें से दो का संगीत अनु मलिक ने दिया है. फ़िल्म जनवरी 2011 में रिलीज़ होगी.

संबंधित समाचार