मैं लड़की तो लगती ही नहीं थी

अभिनेत्री प्रीति ज़िंटा इमेज कॉपीरइट PR Agency
Image caption प्रीति ज़िंटा जल्द ही टेलिविज़न पर एक शो होस्ट करती हुई नज़र आएंगी.

हिंदी फ़िल्मों में अपने चुलबुलेपन, शोख हंसी, गालों पर पड़ते डिंपल और स्वाभाविक अभिनय के लिए मशहूर प्रीति ज़िंटा कहती हैं कि बचपन में वो लड़की तो लगती ही नहीं थीं.

प्रीति कहती हैं, “मेरे बचपन की हर तस्वीर में फ़्रैक्चर, चोट, या खरोंच ज़रूर दिखेंगे. मुझे ये चोटें लड़कों की पिटाई करते हुए लगी. मैं स्वभाव से टॉमबॉय हूं. मुझे एडवेंचर पसंद है मैंने बंजी जंपिंग, स्कूबा डाइविंग, स्काई डाइविंग, कराटे, राइफ़ल शूटिंग, घुड़सवारी, सब कुछ किया है. बचपन में मैं लड़की तो लगती ही नहीं थी.”

लड़कों की पिटाई तो की प्रीति ने लेकिन उनसे कुछ सीखा भी. वो कहती हैं, “मेरा एक बड़ा भाई है और एक छोटा भाई. कह सकते हैं कि मैं लड़कों के बीच बड़ी हुई. और एक बात जो मैंने लड़कों से सीखी है वो ये कि मैं बहुत मुंहफट हूं. अगर मुझे किसी से कुछ समस्या है तो मैं उसे उसी वक़्त उसके बार में बात कर सुलझाती हूं और फिर भूल जाती हूं.”

ये बातें प्रीति ने मंगलवार को मुंबई में हुए एक पत्रकार सम्मेलन में बताईं. प्रीति जल्द ही टेलिविज़न पर एक शो होस्ट करती हुई नज़र आएंगी और ये पत्रकार सम्मेलन उस शो के बारे में था.

छोटे पर्दे पर आने के अपने फ़ैसले के बारे में प्रीति कहती हैं, “दो साल तक मैं क्रिकेट, आईपीएल, में व्यस्त थी, इसलिए मैंने फ़िल्म और टीवी दोनों को ही मना कर दिया. मुझे टीवी ऑफ़र्स मिले लेकिन मुझे कोई इतने पसंद नहीं आए कि मैं हां कह दूं. फिर मैंने फ़ैसला किया कि 2011 में मैं मनोरंजन की दुनिया में वापसी करूंगी. मैं आईपीएल से पहले कोई फ़िल्म शुरु नहीं कर सकती थी लेकिन मुझे इस शो का आइडिया पसंद आया इसलिए मैंने इस शो के लिए हां की.”

लेकिन प्रीति कहती हैं कि उन्होंने अपने फ़ैसले लेने से पहले कभी बहुत ज़्यादा सोचा नहीं है. उन्होंने कहा, “अपने फ़िल्मी करियर की चोटी पर रहते हुए मैंने क्रिकेट से जुड़ने का फ़ैसला लिया जो कि बहुत बड़ी बात है. मैं फ़िल्मों में भी ऐसे ही आई. तो हां, कह सकते हैं कि मैं क़िस्मत को मानती हूं.”

टीवी के बारे में जो बात प्रीति ने सबसे ज़्यादा महसूस की वो है थकान. उन्होंने कहा, “टीवी बिल्कुल ही अलग माध्यम है और टीवी के बारे में जो बात सबसे पहले मैंने महसूस की वो है थकान. फ़िल्म सेट पर तो आप अपने शॉट का इंतज़ार ही करते रहते हैं जबकि टीवी पर सांस लेने की भी फ़ुरसत नहीं होती.”

प्रीति ने इस बात की भी पुष्टि की है कि वो इस साल फ़िल्में करेंगी. उनका टीवी शो, ‘गिनीज़ वर्ल्ड रिकॉर्ड-अब इंडिया तोड़ेगा’18 मार्च से कलर्स पर शुरु हो रहा है.

संबंधित समाचार