'स्मिता की याद दिलाते हैं प्रतीक'

फ़िल्म आरक्षण के सेट पर अमिताभ बच्चन के साथ सैफ़ अली ख़ां, प्रतीक बब्बर और प्रकाश झा इमेज कॉपीरइट pr agency
Image caption अमिताभ बच्चन ने प्रतीक बब्बर के साथ 'आरक्षण' में पहली बार काम किया है

अमिताभ बच्चन का कहना है कि अभिनेत्री स्मिता पाटिल के बेटे प्रतीक बब्बर बिलकुल अपनी मां जैसे दिखते हैं.

अमिताभ और प्रतीक ने साथ पहली बार फ़िल्म 'आरक्षण' में काम किया है.

अमिताभ ने 80 के दशक में स्मिता पाटिल के साथ 'शक्ति' और 'नमक हलाल' जैसी फ़िल्में की थीं.

अमिताभ प्रतीक के बारे में कहते हैं, "नई पीढ़ी के सभी कलाकारों में से अगर कोई ऐसा है जो कैमरे के सामने बिलकुल सहज है तो वो प्रतीक हैं. ये गुण हर किसी में नहीं होता. मैं अभी तक कैमरे के सामने उतना सहज नहीं हूं."

"प्रतीक कैमरे के सामने बहुत स्वाभाविक लगते हैं. आप सोच सकते हैं कि अपने करियर की शुरुआत में अगर वो ऐसे हैं तो आगे जाकर क्या होगा."

स्मिता पाटिल को याद करते हुए अमिताभ ने कहा, "स्मिता व्यवसायिक सिनेमा से दूर भागती थीं. उनकी पहली व्यवसायिक फ़िल्म 'शक्ति' थी. उसके बाद मैंने उन्हें 'नमक हलाल' में काम करने के लिए भी मनाया."

"व्यवसायिक सिनेमा से परहेज़ होने के बावजूद वो अपने निर्देशकों की पूरी सुनती थीं."

अमिताभ ने एक क़िस्सा सुनाते हुए कहा, "'नमक हलाल' की रिलीज़ के बाद उनकी लोकप्रियता और बढ़ गई. हम दोनों चेन्नई में शूटिंग कर रहे थे और उन्होंने मुझसे आकर कहा कि 'नमक हलाल' के बाद लोग मुझे पहचानने लगे हैं. मुझे लगा ये उनकी विनम्रता थी."

"स्मिता के बारे में ख़ास बात ये भी थी कि वो वही करती थीं जिस चीज़ पर उन्हें पूरा विश्वास होता था. वो मेरी और मेरे परिवार की बहुत क़रीबी थीं."

स्मिता के बेटे प्रतीक के साथ अमिताभ बच्चन की फ़िल्म आरक्षण 12 अगस्त को रिलीज़ होगी.

संबंधित समाचार