इरशाद आएगा तो हमें पीटेगा: इम्तिआज़ अली

रॉकस्टार इमेज कॉपीरइट pr
Image caption रॉकस्टार 11 नवंबर को रिलीज़ हो रही है

फ़िल्म 'रॉकस्टार' के निर्देशक इम्तिआज़ अली कहते हैं कि इस फ़िल्म की म्यूज़िक एल्बम में गीतकार इरशाद क़ामिल का नाम शामिल नहीं हुआ है.

मज़ाक करते हुए इम्तिआज़ कहते हैं, ''रॉकस्टार की म्यूज़िक एल्बम से ग़लती से इरशाद का नाम छूट गया है, फिलहाल तो वो बहार है लेकिन जब वो लौटेगा तो हमें ख़ूब मारेगा.''

इमिताज़ अगर गीतकार इरशाद कामिल को 'रॉकस्टार' एल्बम का स्तंभ मानते हैं तो साथ ही वो फ़िल्म के संगीत निर्देशक ए आर रहमान को भी फ़िल्म के बहुरंगीय संगीत का पूरा श्रेय देते हैं.

रॉकस्टार कि एल्बम में कुल 14 गाने हैं. इम्तिआज़ कहते हैं, ''ये गाने फ़िल्म की ज़रुरत थे, रॉकस्टार एक गायक के जीवन के ऊपर आधारित फ़िल्म है. फ़िल्म में मुख्य भूमिका में रनबीर कपूर हैं. फ़िल्म में रणबीर का किरदार ऐसा है जो अपनी बात शब्दों में सही तरीके से बयान नहीं कर पता, अपनी बात रखने के लिए वो संगीत का सहारा लेता है. इसलिए हमें फ़िल्म में बहुत सारे गानों कि ज़रुरत थी.''

साथ ही इम्तिआज़ बताते हैं कि एल्बम में तो सिर्फ 14 ही ट्रैक्स हैं जबकि फ़िल्म में पांच गाने और भी हैं.

जब बीबीसी संवाददाता स्वाति बक्शी ने इम्तिआज़ से पूछा कि रॉकस्टार के संगीत निर्देशक के तौर पर उन्होंने ए आर रहमान को ही क्यूं चुना, तो इम्तिआज़ बोले, '' इस एल्बम में हमें वेस्टर्न स्टाइल के गाने चाहिए थे, लाइव रॉक गाने चाहिए थे, लेकिन इनका अंदाज़ देसी चाहिए था, जो फ़िल्म का मुख्य किरदार है, जोर्डन, वो इस तरह का है, वो जहां भी जाता है उस जगह की संगीत शैली में रच बस जाता है, तो इस तरह के संगीत के लिए ज़ाहिर है मेरी पहली पसंद ए आर रहमान ही थे.''

इम्तिआज़ कहते हैं संगीत पर रहमान की जो पकड़ है और अंतर्राष्ट्रीय संगीत से जो उनका परिचय है, तो इस एल्बम के लिए उनसे बेहतर कोई हो ही नहीं सकता था.

रॉकस्टार के ज़्यादातर गाने मोहित चौहान ने गाये हैं. इम्तिआज़ कहते हैं, ''जब मैं और रहमान साहब फ़िल्म के संगीत के सिलसिले में एक दूसरे से मिलने लगे तब हमने तय किया कि हीरो की आवाज़ किसी एक गायक कि ही होनी चाहिए. और रहमान ने मोहित का नाम सुझाया. मुझे ये सुझाव सही लगा.

वैसे रॉकस्टार के संगीत को सुनने वाले ही नहीं बल्कि संगीत समीक्षकों की भी प्रसंशा मिल रही है.

संबंधित समाचार