मैंने अपने पापा का बदला लिया : करण जौहर

ह्रतिक रोशन इमेज कॉपीरइट bbc
Image caption 'अग्निपथ' ने पहले ही दिन 23 करोड़ रूपए कमा कर 'बॉडीगार्ड' के 21.5 करोड़ रूपए के रिकॉर्ड को तोड़ डाला.

आजकल फ़िल्म निर्माता निर्देशक करण जौहर सातवें आसमान पर हैं, वजह है 'अग्निपथ' की बॉक्स ऑफिस पर सफलता.

बॉलीवुड ट्रेड विश्लेषक कोमल नहाटा ने बीबीसी को बताया कि 26 जनवरी को रिलीज़ हुई 'अग्निपथ' ने पहले ही दिन 23 करोड़ रूपए कमा कर पिछले सारे रिकॉर्ड तोड़ डाले हैं.

अग्निपथ को बॉक्स ऑफिस पर जो सफलता मिली है उसकी उम्मीद करण को बिलकुल नहीं थी. करण कहते हैं, ''सच कहूं तो मैंने नहीं सोचा था कि फ़िल्म कोई रिकॉर्ड बना लेगी. मैं हमेशा बॉक्स ऑफिस पर नज़र रखता हूं. आज तक मेरी कोई भी फ़िल्म रिकॉर्डतोड़ नहीं रही लेकिन आज मुझे इस बात की ख़ुशी है कि बॉक्स ऑफिस रिकॉर्ड की लिस्ट में 'अग्निपथ' सबसे ऊपर है.''

करण ये भी मानते हैं कि 'अग्निपथ' को मिल रही सफलता उनके लिए एक तरह का बदला भी है. हंसते हुए ही सही लेकिन वो कहते हैं, ''अग्निपथ बनाकर मैंने दर्शकों से अपने पिता का बदला लिया है. भले ही मेरे पिता यश जौहर द्वारा निर्मित और मुकुल आनंद द्वारा निर्देशित फ़िल्म 'अग्निपथ' तब बॉक्स ऑफिस पर कोई कमाल न कर पाई हो लेकिन कभी भी, किसी ने भी उसे एक असफल फ़िल्म नहीं समझा. आज अगर आप किसी नौजवान से पूछेंगे तो शायद उसे ये नहीं पता होगा कि ‘अग्निपथ’ बॉक्स ऑफिस पर नहीं चली थी. ये तब भी ये एक 'कल्ट' फ़िल्म थी और आज भी ये एक 'कल्ट' फ़िल्म है.''

करण जौहर कि अगर माने तो उनकी 'अग्निपथ' 1990 में आई 'अग्निपथ' को एक ट्रिब्यूट है. वो कहते हैं, ''हमने ये फ़िल्म बनाई ही इसलिए क्योंकि हम यश जौहर, मुकुल आनंद और 'अग्निपथ' को एक ट्रिब्यूट देना चाहते थे. ये मेरे लिए एक बहुत ख़ास फ़िल्म थी और इसे दोबारा बनाना एक बहुत बड़ा काम था. लेकिन निर्देशक करण मल्होत्रा ने ये काम बख़ूबी निभाया है.''

करण जौहर ये भी मानते हैं कि जब भी किसी 'कल्ट' फ़िल्म का रीमेक बनाया जाता है तो अपने आप ही उस फ़िल्म से उम्मीदें बढ़ जाती हैं.

वो कहते हैं, ''एक 'कल्ट' फ़िल्म का रीमेक अपने आप में एक बड़ी ज़िम्मेदारी है. निर्देशक करण मल्होत्रा ने न सिर्फ इस ज़िम्मेदारी को बख़ूबी निभाया है बल्कि उन्होंने इस फ़िल्म के साथ अपनी एक अलग पहचान भी बना ली है.''

'अग्निपथ' 26 जनवरी को रिलीज़ की गई थी. ट्रेड विश्लेषक कोमल नहाटा के मुताबिक फ़िल्म ने अच्छी शुरुआत करने के बाद पहले 'वीकएंड' में करीब 66-67 करोड़ रूपए कमाए हैं.

'अग्निपथ' को मिली इस सफलता की ख़ुशी फ़िल्म की पूरी स्टार कास्ट ने मुंबई में पत्रकारों के साथ बांटी.

इस मौके पर जब करण जौहर से सफल फ़िल्में बनाने के फ़ॉर्मूले के बारे में पूछा गया तो वो बोले, ''काश ऐसा कोई फ़ॉर्मूला होता तो मैं अपनी हर फ़िल्म में उसका इस्तेमाल कर लेता. दुर्भाग्य से सफलता का कोई नुस्खा नहीं है हां असफलता के कई कारण हैं. हर फ़िल्म मेहनत, लगन और जोश के साथ बनाई जाती है, कोई चल जाती है कोई नहीं चलती.''

करण जौहर खुद एक निर्देशक हैं तो उन्होंने क्यों अग्निपथ का निर्देशन नहीं किया? इस सवाल का जवाब देते हुए करण बोले, ''मैं कभी इस तरह की फ़िल्म बना ही नहीं सकता. मैं अगर 'अग्निपथ' को बनता तो वो इतनी बुरी फ़िल्म बनती की कोई भी उसे देखना तो दूर उसके बारे में बात तक नहीं करता.''

फ़िल्म में मुख्य भूमिका में हैं ह्रितिक रोशन, संजय दत्त और प्रियंका चोपड़ा.

संबंधित समाचार