'सुपरकूल' की 'अश्लीलता' पर निर्देशक की दो टूक

सारा जेन डियास, रितेश देशमुख और नेहा शर्मा

रितेश देशमुख और तुषार कपूर की आने वाली फिल्म 'क्या सुपरकूल हैं हम' के यूट्यूब पर दिख रहे प्रोमो पर कई लोगों ने विपरीत प्रतिक्रियाएं दी हैं.

कई लोगों को ये प्रोमो काफी आपत्तिजनक और द्विअर्थी लगे. लेकिन फिल्म के निर्देशक सचिन यार्डी ने इन आलोचनाओं को दरकिनार कर दिया.

फिल्म के बारे में पत्रकारों से रूबरू सचिन ने कहा, "फिल्म के प्रोमो कई लोगों को बहुत पसंद आ रहे हैं और बहुत कम ऐसे लोग हैं जिन्हें ये पसंद नहीं आ रहे हैं. आपको प्रोमो अच्छे नहीं लग रहे हैं तो उन्हें देखने की क्या ज़रूरत. मत देखिए."

यहां मौजूद फिल्म के अभिनेता रितेश देशमुख ने भी कहा, कि फिल्म से जुड़े लोगों ने कभी दावा नहीं किया कि ये साफ सुथरी फिल्म है. रितेश के मुताबिक ये एक पारिवारिक फिल्म कदापि नहीं है.

रितेश ने कहा कि फिल्म को सेक्स कॉमेडी नहीं कहना चाहिए बल्कि ये एक क्रेजी कॉमेडी है.

लेकिन फिल्म का बचाव करने में जुटे रितेश देशमुख पत्रकारों के सवालों से असहज भी नजर आए.

फिल्म के प्रोमो में रितेश देशमुख को एक गालीनुमा शब्द बोलते दिखाया गया है. जब उनसे पूछा गया कि इस शब्द का क्या मतलब है और वो क्या इसे दोबारा सबके सामने बोल सकते हैं, तो रितेश गोलमोल जवाब देकर बात को टाल गए.

'क्या सुपरकूल हैं हम' में रितेश देशमुख, तुषार कपूर, सारा जोंस और नेहा शर्मा की मुख्य भूमिका है.

फिल्म का निर्माण एकता कपूर और उनकी मां शोभा कपूर मिलकर कर रहे हैं.

ये फिल्म 2005 में रिलीज हुई 'क्या कूल हैं हम' का सीक्वल है. 'क्या कूल हैं हम' को भी एक एडल्ट कॉमेडी कहा गया था और इस पर भी काफी द्विअर्थी संवाद होने के आरोप लगे थे.

निर्देशक सचिन यार्डी कहते हैं, "जब आप किसी फिल्म का सीक्वल बनाते हो तो उसमें हास्य पहले से भी ज्यादा होना चाहिए. शायद इसी वजह से कई लोगों को फिल्म के प्रोमो थोड़े आपत्तिजनक लग रहे हैं."

'क्या सुपरकूल हैं हम' अगस्त में रिलीज होगी.

संबंधित समाचार