जॉन की तमन्ना- पैसे कमाना, सिनेमा बनाना!

विकी डोनर इमेज कॉपीरइट official website

बतौर निर्माता जॉन अब्राहम की पहली फिल्म विकी डोनर शुक्रवार को रिलीज हुई. फिल्म स्पर्म डोनेशन जैसे अनूठे विषय पर आधारित है.

ब्रिटेन में अपनी फिल्म का प्रमोशन करने पहुंचे जॉन से बीबीसी ने जानना चाहा कि इस अनूठे विषय को चुनने की भला क्या वजह रही. तो जॉन बोले, "मैं बतौर निर्माता एक ऐसी फिल्म बनाना चाहता था, जो मुझे पैसे भी कमाकर दे, लेकिन साथ ही मुझे रचनात्मक संतुष्टि भी दे. मैं वैसा सिनेमा बना सकूं जिसमें मेरा यकीन है."

जॉन के मुताबिक अक्सर बड़े स्टार अपना प्रोडक्शन हाउस बनाते हैं और फिर अपनी पहली फिल्म को अपने इर्द गिर्द ही रखते हैं. फिल्म को प्रचारित करने के लिए अपनी स्टार पावर का इस्तेमाल करते हैं, लेकिन वो ऐसा नहीं करेंगे.

जॉन कहते हैं, "मैं पूरी तरह से परदे के पीछे रहकर एक निर्माता की जिम्मेदारी को समझना चाहता था. मैं अपनी पहली फिल्म के लिए एक बिलकुल अलग विषय लेना चाहता था."

विकी डोनर में आयुष्मान खुराना और यामी गुप्ता जैसे नए कलाकारों ने मुख्य भूमिकाएं निभाई हैं. साथ ही वरिष्ठ कलाकार अन्नू कपूर की भी खास भूमिका है. जॉन अब्राहम ने सिर्फ एक गाने में परदे पर आए हैं.

वो बताते हैं कि फिल्म की स्क्रिप्ट के पहले ड्राफ्ट से लेकर, कलाकारों के चयन में उनकी भूमिका रही. वो शूटिंग के दौरान भी सेट पर मौजूद होते थे. विकी डोनर का निर्देशन सूजित सरकार ने किया है.

जॉन अब्राहम ये भी कहते हैं कि बतौर कलाकार उनकी कई ऐसी फिल्में रहीं जिन्होंने उन्हें संतुष्टि दी लेकिन वो व्यवसायिक तौर पर उतनी कामयाब नहीं रहीं जिसका उन्हें बहुत अफसोस है.

जॉन कहते हैं, "मुझे लगता है कि फिल्म नो स्मोकिंग में मेरा अभिनय बहुत अच्छा था, लेकिन फिल्म नहीं चली. मुझे लगता है कि मेरी फिल्म वॉटर को भारतीय दर्शकों को देखना चाहिए था. लेकिन भारत में ये फिल्म सिर्फ एक शो ही चली. बहुत अफसोस की बात है."

बतौर निर्माता जॉन की अगली फिल्म हमारा बजाज है. इसमें भी विकी डोनर में मुख्य भूमिका निभाने वाले आयुष्मान खुराना ही काम कर रहे हैं.

संबंधित समाचार