अनुराग कश्यप की ‘एडल्ट फिल्म’!

इमेज कॉपीरइट pr

बॉलीवुड में अपनी अलग पहचान बना चुके अनुराग कश्यप अपनी अगली फ़िल्म 'गैंग्स ऑफ वासेपुर' लेकर आ रहे हैं जो कि बिहार की पृष्ठभूमि पर आधारित है.

कुछ दिन पहले ही अनुराग अपनी इस फ़िल्म के बारे में चर्चा करने के लिए मीडिया से मुखातिब हुए.

फ़िल्म के प्रोमों में खूब सारी गोलियां चलती दिखाई दी हैं, जब अनुराग से पूछा गया कि क्या उन्हें सेंसर बोर्ड का ख्याल नहीं आया तो जवाब में उन्होंने कहा, ''एडल्ट पिक्चर है ना, इस पिक्चर के लिए एडल्ट सर्टिफिकेट हैं.''

फ़िल्म के बारे में बताते हुए अनुराग कहते हैं, ''जब हम ये फ़िल्म बनाने चले थे तो ये बात स्पष्ट थी कि हम एक व्यवसायिक फ़िल्म हैं, फ़िल्म हकीकत के बहुत करीब है लेकिन इस फ़िल्म में पूरी तरह से एक कमर्शियल फ़िल्म के तत्व भी मौजूद है.''

इस फ़िल्म में अनुराग पहली बार निर्देशक तिगमांशु धूलिया को एक अभिनेता के तौर पर पेश कर रहे हैं.

छह घंटे की फिल्म

तिगमांशु के अभिनय के बारे में अनुराग कहते हैं, ''तिगमांशु बहुत बड़े एक्टर हैं, वो नेशनल स्कूल ऑफ ड्रामा के अभिनेता रहे हैं. उन्हे आज तक किसी ने इस्तेमाल नहीं किया है.इस फ़िल्म में उनका अभिनय शानदार रहा है और वो एक ऐसे इंसान की भूमिका निभा रहे हैं जो 40 साल कि उम्र से 90 साल की उम्र तक जाता है.''

अनुराग ने बताया कि तिगमांशु धूलिया इस फ़िल्म के मुख्य खलनायक हैं और फ़िल्म में उनका सबसे लंबा रोल है. फ़िल्म में मनोज बाजपेई मुख्य भूमिका में हैं.

मनोज बाजपेई के बारे में अनुराग कश्यप कहते हैं, ''आप बिहार पर फ़िल्म बना रहे हों और उसमें मनोज बाजपाई ना हों ऐसा कैसे हो सकता है.''

अनुराग कश्यप की फ़िल्म 'गैंग ऑफ वसीपुर' छह घंटे की हैं और इस दो भाग में बांटा गया है.

अनुराग का दावा है कि ये फ़िल्म लंबी जरुर हैं लेकिन इसका हर भाग अपने आप में पूरा है.

ये फ़िल्म 22 जून को सिनेमाघरों में रिलीज़ हो रही है.

संबंधित समाचार