मैं कभी फिल्म का निर्देशन नहीं करूँगा: नसीर

 शुक्रवार, 29 जून, 2012 को 05:44 IST तक के समाचार
नसीरुद्दीन शाह

नसीर की आने वाली फिल्मों में विशाल भरद्वाज की 'डेढ़ इशिकिया'.

बॉलीवुड में अभिनेताओं का निर्देशन की ओर और निर्देशकों का अभिनय की ओर कदम रखना एक आम बात है.

हाल ही निर्देशक तिग्मांशु धूलिया नज़र आए 'गैंग्स ऑफ़ वासेपुर' में अभिनय करते हुए. जल्द ही आप देखेंगे अभिनेता अरबाज़ खान को बतौर निर्देशक दबंग के दूसरे भाग में.

लेकिन ऐसे माहौल में भी सालों से अभिनय की दुनिया में जगमगा रहे नसीरुद्दीन शाह कहते हैं कि वो निर्देशक की कुर्सी पर नहीं बैठेंगे.

वैसे आपको बता दें कि साल 2006 में आई फिल्म 'यूँ होता तो क्या होता' के साथ निर्देशन में अपना हाथ आजमा चुके हैं नसीर. तो अब ऐसा क्या हो गया कि वो निर्देशन से तौबा-तौबा कर रहे हैं?

नसीर कहते हैं, ''नहीं अब मैं किसी फिल्म का निर्देशन नहीं करूँगा. मुझमें सब्र नहीं है और न ही मुझमें अब इतनी ताकत है कि मैं कोई फिल्म डायरेक्ट करूँ.''

नसीर कहते हैं कि फिल्में बनाना बहुत ही मुश्किल काम है और वो उन लोगों की तहे दिल से तारीफ करते हैं जो एक अच्छी फिल्म बना सकते हैं. वो ऐसी कोई कोशिश नहीं करने वाले.

मैक्सिमम

भले ही नसीर निर्देशन न करें लेकिन अभिनय तो वो हमेशा ही करते रहेंगे. इस शुक्रवार यानी 29 जून को उनकी फिल्म 'मैक्सिमम' भी रिलीज़ हो रही है. फिल्म में नसीर के साथ हैं सोनू सूद और नेहा धूपिया. फिल्म का निर्देशन किया है कबीर कौशिक ने.

'मैक्सिमम' एक क्राइम थ्रिलर फिल्म है जिसमें नसीरुद्दीन शाह एक पुलिस ऑफिसर की भूमिका में हैं.

1975 में आई फिल्म 'निशांत' से हिंदी फिल्म इंडस्ट्री में कदम रखने वाले नसीरुद्दीन शाह ने जहाँ 'मंथन', 'भूमिका' और 'आक्रोश' जैसी ऑफ-बीट फिल्में की वहीं उन्होंने 'द डर्टी पिक्चर' और 'कृष' जैसी फिल्में भी की हैं.

नसीर की आने वाली फिल्मों में विशाल भरद्वाज की 'डेढ़ इश्किया' भी शामिल है. अभिषेक चौबे निर्देशित इस फिल्म में नसीर के साथ-साथ माधुरी दीक्षित भी नज़र आएंगी.

इससे जुड़ी और सामग्रियाँ

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.