वीना मलिक की 'डर्टी पिक्चर'

 शुक्रवार, 29 जून, 2012 को 12:21 IST तक के समाचार

पाकिस्तानी अभिनेत्री वीना मलिक अब आपको सुपरहिट हिंदी फिल्म द डर्टी पिक्चर के कन्नड़ रीमेक में दिखाई देंगी. वीना का दावा है कि इस फ़िल्म में उनकी एक खास छाप होगी.

बीबीसी से एक खास बातचीत में जब वीना मलिक से पूछा गया कि क्या उनकी तुलना विद्या बालन से नहीं होगी, तो इस सवाल के जवाब में वीना मलिक ने कहा, “ऐसा हो सकता हैं कि दर्शक एक सोच के साथ सिनेमाघरों में जाएं, लेकिन जब वो सिनेमा हॉल से बाहर आएंगे तो उनके दिमाग पर वीना मलिक की एक गहरी छाप होगी.”

वीना मलिक कहती हैं कि लोगों को तुलना करने से नहीं रोका जा कहता.

"मुझे आज तक याद नहीं कि मैं किसी फ़िल्म की कहानी पढ़ने के बाद रोई हूं, लेकिन डर्टी पिक्चर की कहानी पढ़ने के बाद मुझे बहुत रोना आया."

वीना मलिक, अभिनेत्री

वीना से जब पूछा गया कि क्या वो डर्टी पिक्चर की कहानी से अपने आप को जुडा पाती हैं, तो वीना मलिक कहती हैं, “जरूरी नहीं कि कोई ऐक्टर हर कहानी से जुड़ा महसूस करे. हम ऐक्टर पानी की तरह होते हैं, जिस बर्तन में डालो हम उसी की शक्ल ले लेते हैं.”

वीना मलिक कहती हैं कि इस फ़िल्म को करने के पीछे दो वजह रहीं. वो कहती हैं कि इस फ़िल्म की कहानी बहुत अच्छी हैं और मुझे इस फ़िल्म के लिए मेहनताना भी खूब मिला.

वीना कहती हैं, “मुझे आज तक याद नहीं कि मैं किसी फ़िल्म की कहानी पढ़ने के बाद रोई हूं, लेकिन डर्टी पिक्चर की कहानी पढ़ने के बाद मुझे बहुत रोना आया.”

दक्षिण भारतीय फ़िल्मों में काम करने के अनुभव के बारे में वीना कहती हैं, “दक्षिण भारतीय फ़िल्में बॉलीवुड की फ़िल्मों से कहीं बेहतर हैं. वहां सेट पर ही एडिटिंग की व्यवस्था हैं.हम हर दिन की शूटिंग के बाद ही रफ कट देख लेते हैं.”

निर्देशक त्रिशूल के निर्देशन में बन रही ये फ़िल्म कन्नड भाषा में है.

इससे जुड़ी और सामग्रियाँ

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.