'छल्ला' की आलोचना पर शाहरुख का जवाब

जब तक है जान

शाहरुख खान और यश चोपड़ा की आने वाली फिल्म जब तक है जान का गीत 'छल्ला' काफी चर्चा में है. कई लोग इसे पसंद कर रहे हैं तो सोशल नेटवर्किंग साइट और यूट्यूब पर इसे नापसंद करने वालों की भी कमी नहीं है.

आलोचना करने वाले ज्यादातर लोगों का कहना है कि इस गीत में गायक रब्बी की आवाज़ शाहरुख ख़ान पर बिलकुल नहीं जंच रही है.

शाहरुख ख़ान से जब ये सवाल किया गया तो पहले तो उन्होंने हंसते हुए कहा, "क्या करूं यार. क्या गाना रि रिकॉर्ड कराऊं." फिर थोड़ा गंभीर हुए और बोले, "फिल्म के निर्देशक यश चोपड़ा हैं. संगीतकार ए आर रहमान हैं और गीतकार गुलज़ार हैं. जब ये दिग्गज आपके सामने हैं तो मैं कौन होता हूं उनके फैसले पर सवाल उठाने वाला. और वैसे भी मुझे नहीं लगता कि रब्बी की आवाज़ मुझ पर नहीं जंच रही है. वो बेहतरीन गायक हैं और छल्ला को शानदार तरीके से उन्होंने गाया है. मैं इस आलोचना से सहमत नहीं हूं."

शाहरुख ने ये बातें मुंबई में फिल्म जब तक है जान के म्यूज़िक लॉन्च पर कहीं.

जब तक है जान के निर्देशक यश चोपड़ा हैं और वो घोषणा कर चुके हैं कि बतौर निर्दशक ये उनकी आखिरी फिल्म होगी.

फिल्म में शाहरुख के अलावा कटरीना कैफ और अनुष्का शर्मा की भी अहम भूमिका है.

अपने 21 साल के सफर और हिंदी फिल्मों के आइकॉन कहे जाने के सवाल पर शाहरुख ने कहा, "मैं आइकॉन कहे जाने वाली से सहमत नहीं हूं. इससे मैं रिलेट ही नहीं कर पाता. लेकिन हां अगर फिल्म इंडस्ट्री में काम करने के 21 साल बाद भी अगर मुझे कटरीना कैफ जैसे बड़ी स्टार और अनुष्का जैसी न्यूकमर के साथ काम करने का मौका मिल रहा है तो शायद इसे मेरी उपलब्धि ही कहा जाएगा. लेकिन मैं अपने आपको काफी खुशनसीब भी मानता हूं क्योंकि मैं जितना डिजर्व करता था उससे कहीं ज्यादा मिला."

इस फिल्म के बाद यश चोपड़ा के संन्यास लेने के फैसले पर शाहरुख खान बोले, "यश जी में तो अब भी बहुत सारी फिल्म मेकिंग बाकी है. उन्हें संन्यास नहीं लेना चाहिए."

जब तक है जान इसी साल, 13 नवंबर को रिलीज हो रही है.

संबंधित समाचार