बॉन्ड ने कमाए रोज क़रीब 3 करोड़ डॉलर

जेम्स बांड
Image caption जेम्स बॉन्ड की फ़िल्में पहले भी कमाई की इतिहास रचती रही हैं

जेम्स बॉन्ड की नई फ़िल्म ‘स्काईफाल’ ने अंतरराष्ट्रीय बॉक्स ऑफिस पर तहलका मचा दिया है. सोनी और एमजीएम की इस फ़िल्म ने विश्व भर के सिनेमाघरों में पहले दस दिन में 28.7 करोड़ डॉलर कमा लिए हैं.

इस फ़िल्म के हीरो डेनियल क्रेग हैं और इसे सेम डेनियल के निर्देशित किया है.

लाइवट्रेडिंग न्यूज के अनुसार जर्मनी में इस फ़िल्म की ओपनिंग 2.39 करोड़ डॉलर थी. जर्मनी में यह 2012 की सबसे बड़ी ओपनिंग साबित हुई है.

ब्रिटेन और आयरलैंड में भी इस फ़िल्म ने पहले हफ्ते रिकार्ड बनाया था. इस फ़िल्म ने इन दोनों देशों में दो करोड़ पाउंड की ओपनिंग की थी. अमरीका में यह फ़िल्म नौ नवंबर को रिलीज़ हो रही है.

स्विटजरलैंड में रिकॉर्ड

इटली में यह फ़िल्म अब तक 79.9 लाख डॉलर कमा चुकी है जबकि स्पेन में कमाई 67 लाख डॉलर रही. स्विट्जरलैंड में यह फ़िल्म 53 लाख डॉलर कमा चुकी है जो कि कैसिनो रोयाल की तुलना 80 फीसदी अधिक है.

हालांकि अमरीका में जेम्स बॉन्ड को एनीमेशन फ़िल्म 'ब्रेक इट राल्फ' से काफी कड़ी टक्कर मिलेगी. 'ब्रेक इट राल्फ' फ़िल्म ने नॉर्थ-ईस्ट में काफी अच्छी कमाई की है. यह पूरा इलाका पिछले कुछ दिनों से सैंडी तूफान के कारण अस्तव्यस्त है.

इस फ़िल्म ने 3752 सिनेमाघरों में 4.91 करोड़ डॉलर का कारोबार करके नया रिकॉर्ड बनाया है.

जेम्स बॉन्ड सीरीज की फ़िल्मों का यह 50वां साल है. इस लिहाज से भी स्काईफाल से और बेहतर करने की उम्मीद की जा रही है.

23वीं बॉन्ड फ़िल्म

Image caption जेम्स बॉन्ड की फ़िल्मों का लोगों को इंतज़ार रहता है

जेम्स बॉन्ड सीरीज की यह 23वीं फ़िल्म है. पिछली जेम्स बॉन्ड फ़िल्म 'क्वांटम ऑफ सोलेस' थी. क्रेग से पहले पांच और कलाकार इस किरदार को निभा चुके हैं. क्रेग 21 और 22वीं जेम्स बॉन्ड की फ़िल्म के हीरो थे.

क्रेग के अलावा शिएन कॉनरी, जॉर्ज लेज़ेनबी, रॉज़र मूर, टिमोथी डाल्टन और पीयर्स ब्रोसनन जेम्स बॉन्ड के हीरो रहे हैं.

जेम्स बॉन्ड किरदार का जन्म 1953 में लेखक इयान फ्लेमिंग ने गढ़ा था.

यह पात्र उनके 12 उपन्यासों और दो कहानी संग्रह में भी छाया रहा.

1964 में फ्लेमिंग की मौत के बाद छह अन्य लेखकों ने इस किरदार का इस्तेमाल अपने उपन्यासों में किया.

फ्लेमिंग ने इस किरदार को कैरिबियाई पक्षी विज्ञानी जेम्स बॉन्ड के नाम पर रखा था. फ्लेमिंग को खुद भी दुर्लभ पंक्षियों को देखने का शौक था.

संबंधित समाचार