फिल्मी मैदान में सनी दा पुत्तर !

यमला पगला दीवाना
Image caption सनी देओल के बेटे करण देओल, यमला पगला दीवाना-2 के असिस्टेंट डायरेक्टर हैं.

अभिनेता धर्मेंद्र ने अपने बड़े बेटे सनी देओल को साल 1983 में फिल्मों में लॉन्च किया था फिल्म बेताब से. अब तकरीबन 31 सालों बाद सनी देओल अपने बेटे को फिल्मों में लॉन्च करने की तैयारी कर चुके हैं.

बीबीसी एशियन नेटवर्क से खास बात करते हुए सनी देओल ने कहा, "मैं अपने बेटे करण देओल को अगले साल तक लॉन्च कर दूंगा. फिलहाल वो हमें फिल्म निर्माण में सहयोग दे रहा है. यमला पगला दीवाना पार्ट 2 में वो बतौर असिस्टेंट डायरेक्टर काम कर रहा है."

सनी ने कहा कि इससे करण को फिल्म निर्माण की बारीकियां सीखने में मदद मिलेगी. सनी कहते हैं, "मैंने अपने बेटे को सलाह दी है कि स्पंज बनो और जो सीखने को मिले उसे सोख लो."

यमला पगला दीवाना-2

'यमला पगला दीवाना-2' साल 2011 में आई हिट फिल्म 'यमला पगला दीवाना' का सीक्वल है. इसका निर्देशन संगीत सिवन कर रहे हैं.

फिल्म में धर्मेंद्र और उनके दोनों बेटे सनी और बॉबी देओल मुख्य भूमिका निभा रहे हैं. फिल्म की ज़्यादातर शूटिंग ब्रिटेन में हुई.

सनी कहते हैं कि फिल्म की शूटिंग के दौरान उन्हें बेहद ठंड का सामना करना पड़ा लेकिन ठंड उनका पसंदीदा मौसम है इसलिए उन्हें ज़्यादा तकलीफ नहीं हुई.

देओल तिकड़ी

यमला पगला दीवाना साल 2011 में आई थी और इसे दर्शकों ने खासा पसंद किया था. इसकी कामयाबी की क्या वजह थी.

ये पूछने पर सनी ने कहा, "पापा (धर्मेंद्र) और बॉबी देओल के बीच फिल्म में ऐसा रिश्ता दिखाया गया है जो असल ज़िंदगी से बिलकुल अलग है. फिल्म में दोनों दोस्तों की तरह रहते हैं और बॉबी, पापा को ओए धरम कहता है. और भी उसने ना जाने क्या-क्या कहा पापा को फिल्म में. वो मैं नहीं दोहरा सकता. लेकिन शायद यही बात दर्शकों को बड़ी पसंद आई. लोगों को मेरा कॉमिक सरदार का किरदार भी पसंद आया."

फिल्म के इसी साल जून में रिलीज़ होने की संभावना है. इसमें अनुपम खेर ने भी अहम किरदार निभाया है.

'यमला पगला दीवाना' का निर्देशन समीर कार्निक ने किया था लेकिन बाद में कथित तौर पर देओल परिवार से मतभेद की वजह से उन्हें इस फिल्म के सीक्वल का निर्देशन नहीं दिया गया और संगीत सिवन को ये ज़िम्मेदारी सौंपी गई.

संबंधित समाचार