भारतीय सिनेमा की 'शतकीय पारी' पर फिल्म

Image caption फिक्की फ्रेम्स में फिल्मों के व्यवसायिक पहलू पर बोलते फिल्मकार करण जौहर

भारतीय सिनेमा के 100 साल पूरे होने का जश्न बॉलीवुड 'बॉम्बे टॉकीज' के ज़रिए मनाएगा.

'बॉम्बे टॉकीज' एक लघु फिल्म है जिसे चार नामचीन निर्देशक मिलकर बना रहे हैं और इसके निर्माता करण जौहर तो इस फिल्म को लेकर इतने उत्साहित हैं कि इसके सीक्वल की संभावना से भी इनकार नहीं कर रहे हैं.

करण जौहर ने ये बात मुंबई में चल रहे फिक्की फ्रेम्स समारोह में कही, जहां फिल्मों के व्यवसायिक पहलू पर फिल्म उद्योग की कई हस्तियों ने चर्चा की.

बॉम्बे टॉकीज को दिबाकर बनर्जी, अनुराग कश्यप, ज़ोया अख़्तर और करण जौहर मिलकर बना रहे हैं.

करण ने बताया कि फिल्म के चार हिस्से होंगे और हर हिस्से को अलग अलग निर्देशक निर्देशित करेगा जिसमें भारतीय सिनेमा के अलग-अलग पहलुओं को दर्शाया जाएगा.

'राजा हरिश्चंद्र' को श्रद्धांजलि

ये फिल्म इसी साल तीन मई को रिलीज़ होगी. इसी दिन 100 साल पहले, पहली हिंदुस्तानी फिल्म 'राजा हरिश्चंद्र' तीन मई 1913 को दर्शकों के सामने आई थी.

मुंबई में मीडिया से ज़ोया अख्तर ने कहा, "मैंने इस प्रोजेक्ट को अपनी शर्तों पर साइन किया. मैंने कहा था कि मैं उसी तरीके से फिल्म बनाऊंगी जिस पर मैं यक़ीन करती हूं. और मैंने वही किया."

ख़बरें ये भी हैं कि चारों निर्देशकों की योजना एक एक बड़े सितारे को लेने की है. अनुराग कश्यप अपने पार्ट में अमिताभ बच्चन को लेने की योजना बना रहे हैं. वहीं दिबाकर बनर्जी वाले पार्ट में रणबीर कपूर हो सकते हैं.

संबंधित समाचार