हमें खुद को बेचने का शौक नहीं: सनी

सनी देओल

जून सात वो तारीख़ है जब फिल्म 'यमला पगला दीवाना 2' रिलीज़ होगी. फिल्म में मुख्य भूमिका में हैं धर्मेन्द्र और उनके दोने बेटे सनी और बॉबी देओल. यही वहज है कि आमतौर पर मीडिया से दूर ही रहने वाला देओल परिवार इन दिनों पत्रकारों के बीच नज़र आ रहा है.

ऐसी ही एक मुलाक़ात में सनी देओल से बीबीसी ने ये जानने की कोशिश की, कि आजकल जहां सुर्ख़ियों में रहने के लिए स्टार कुछ भी करने को तैयार हो जाते हैं तो ऐसे में वो और उनका परिवार मीडिया से इतनी दूरी क्यों बनाए रखते हैं?

इस सवाल का जवाब देते हुए सनी कहते हैं, ''और लोग क्या करते हैं या क्या नहीं मैं उस बारे में कुछ नहीं कह सकता. हमारे परिवार की एक मर्यादा है. हमें खुद को बेचने का कोई शौक नहीं है.''

अपनी बात को पूरा करते हुए वो कहते हैं, ''शायद आज समाज ही ऐसा हो गया है कि लोगों में शर्म ही नहीं रह गई है. पर भई हम में तो बहुत शर्म है इसलिए हम ऐसी कई चीज़ें न करते हैं और न करेंगे.''

मेरा काम ही मेरी पहचान

Image caption सनी देओल जल्द ही 'आई लव न्यू इयर' में नज़र आएंगे.

सनी ये भी कहते हैं कि वो चाहते हैं कि अगर उनकी कोई पहचान हो तो उनके काम की वजह से हो.

वो कहते हैं, ''मैं खुद को कैसे प्रमोट करता हूं, या खुद को सुर्ख़ियों में रखने के लिए क्या-क्या करता हूं मुझे ऐसे सब कामों में कोई दिलचस्पी नहीं है. मुझे ऐसी पहचान नहीं चाहिए. अगर मेरा काम अच्छा है तो लोग मुझे सराहेंगे ही और अगर मेरा काम ख़राब है तो वो मेरी निंदा भी करेंगे.''

सनी देओल ने बतौर मुख्य अभिनेता फिल्मों में अपने करियर की शुरुआत 1983 में आई फिल्म 'बेताब' से की थी. तब से लेकर अब तक सनी 'घायल', 'घातक', 'जिद्दी', 'बॉर्डर', 'ग़दर' जैसी कई यादगार फिल्में कर चुके हैं. तो अब तक के अपने सफ़र को कैसे देखते हैं सनी?

इस सवाल का जवाब देते हुए सनी कहते हैं, ''मेरा अब तक का सफ़र शानदार रहा है. अब तक के अपने जीवन में मैंने बहुत कुछ देखा है और जो भी देखा है बुरा या भला मैं उसे बदलना नहीं चाहूंगा क्योंकि मैंने इन सब बातों से बहुत कुछ सीखा भी है.''

मुश्किल भरे दिन

अपनी बात को पूरा करते हुए सनी कहते हैं कि उनकी ज़िन्दगी के पिछले कुछ साल ज़रा मुश्किल भरे रहे हैं. साथ ही वो ये भी कहते हैं कि किसकी ज़िन्दगी में मुश्किलें नहीं आती बस ज़रूरत है तो ऐसे वक़्त में और ज्यादा मेहनत करने की क्योंकि आप नहीं जानते कि किस्मत कब बदल जाए.

पर जिन मुश्किल भरे दिनों की बात सनी देओल कर रहे हैं उन दिनों में ऐसा क्या देखना पड़ गया उन्हें?

इस सवाल का जवाब देते हुए सनी कहते हैं, ''मुझे अच्छा काम नहीं मिल रहा था. मुझे ऐसी कहानियां नहीं मिल रही थी जो मेरी इमेज को सूट करती. लोगों का भरोसा मुझ पर से उठ गया था. उन्हें लग रहा था कि अब मेरी फिल्में चलेंगी नहीं. साथ ही मेरी सेहत भी ख़राब चल रही थी.''

घायल रिटर्न्स

खैर जो बीत गई सो बात गई. अब तो सनी के पास फिल्में हैं. जैसे जल्द ही वो अपनी ही फिल्म 'घायल' का सीक्वल 'घायल रिटर्न्स' करने वाले हैं.

इस फिल्म के बारे में बात करते हुए सनी कहते हैं, ''मैं एक्शन फिल्में करना चाहता हूं और जहां तक बात है 'घायल रिटर्न्स' की मैं उसे एक नई उचाई पर ले जाना चाहता हूं. मैं ये नहीं चाहता की 'घायल रिटर्न्स' 'घायल' से किसी भी बात में कम हो.''

'घायल रिटर्न्स' की शूटिंग अभी शुरू नहीं हुई है और ये फिल्म जहां तक उम्मीद है अगले साल ही रिलीज़ होगी. लेकिन उससे पहले आप सनी देओल को देख सकते हैं 'आई लव न्यू इयर', 'मोहल्ला अस्सी' और 'यमला पगला दीवाना 2' जैसी फिल्मों में.

संबंधित समाचार