मेरे सीरियल में औरत थप्पड़ नहीं खाती

एकता कपूर, निर्माता
Image caption एकता कपूर की नई फिल्म 'एक थी डायन' है ,विशाल भारद्वाज जिसके सह-निर्माता है

भारत के कई घरों के टेलीविज़न सेट पर निर्माता एकता कपूर के सीरियल राज करते हैं.

समीक्षकों की तारीफ के साथ साथ आलोचना झेलने वाले इन धारावाहिकों ने एकता कपूर को घर-घर पहुंचा दिया है और पिछले कुछ सालों से उनकी फिल्में भी बॉक्स ऑफिस पर अच्छा कर रही है.

नई फिल्म 'एक थी डायन' के प्रमोशन के मौके पर जब एकता से बात करने का मौका मिला तो सबसे पहला सवाल उनके टीवी सीरियल के बारे में ही पूछा जिन पर रूढ़ीवादी होने का आरोप लगता आया है.

एकता के अनुसार "मेरे किसी सीरियल में औरत ने थप्पड़ नहीं खाया है. झगड़े और थप्पड़ में बहुत फर्क है, हम घर के अंदर की बातें बताते हैं जहां अच्छी बातों के साथ साथ झगड़े भी होते हैं. हम बस वही दिखाते हैं."

टीवी पर ऊंची टीआरपी छूने वाले अपने धारावाहिकों के बारे में एकता ने कहा "एक रिसर्च कहती है कि टीवी सीरियल की वजह से औरतों को अपनी आवाज़ मिली है.

पहले औरतें घर के निर्णय नहीं लेती थी लेकिन हमारे हर कार्यक्रम में आप देखेंगे कि महिलाएं ही सारे फैसले लेती है. दरअसल जो लोग टीवी नहीं देखते उन्हें टीवी पर कमेंट करने का सबसे ज़्यादा शौक है."

मैं अंधविश्वासी हूं

एक वक्त था जब एकता अपने सीरियल और फिल्मों के नाम 'क' अक्षर से शुरु करती थी क्योंकि वो मानती थी कि ऐसा करना उनके लिए शुभ है. हालांकि अब वो 'क' अक्षर से आगे बढ़ चुकी है लेकिन अभी भी वो खुद को अंधविश्वासी मानने से इंकार नहीं करती.

एकता कहती हैं "मैं हमेशा से अंधविश्वासी हूं भी और नहीं भी क्योंकि आपके लिए जो अंधविश्वास है वो मेरे लिए नहीं है. अगर मैं किसी बात में विश्वास करती हूं तो फिर मुझे कोई फर्क नहीं पड़ता कि कोई क्या सोच रहा है."

हारवर्ड जाना चाहती हूं

टीवी और फिल्मों में व्यस्त रहने वाली एकता मानती हैं कि उनके पास खुद के लिए वक्त नहीं है. एकता के मुताबिक " लेखन, निर्माण और प्रमोशन के बीच सामंजस्य रखने के चक्कर में बहुत सारी ज़रुरी चीज़ें अनदेखी हो जाती हैं. आने वाले वक्त में खुद के लिए ज़रुर समय निकालूंगी."

भविष्य की बात करते हुए एकता ने कहा कि वो आगे पढ़ाई करना चाहती हैं जिसके लिए वो हारवर्ड में दाखिला लेना चाहेंगी.

वहीं शादी के सवाल पर एकता ने जवाब देना बेहतर नहीं समझा और इंटरव्यू समाप्त कर दिया.

संबंधित समाचार