पाकिस्तानी मीरा की भारतीय हीरोइनों को चुनौती

मीरा
Image caption मीरा के मुताबिक वो प्रियंका चोपड़ा और विद्या बालन के साथ काम करके अपना टैलेंट दिखाना चाहती हैं.

महेश भट्ट की फिल्म 'नज़र' में पहली बार बॉलीवुड में नज़र आई पाकिस्तानी अभिनेत्री मीरा तैयार हैं अपनी एक और फिल्म 'भड़ास' के साथ. फिल्म 28 जून को रिलीज़ होने वाली है.

(फिल्म प्रमोशन का नया अंदाज़)

बीबीसी से खास बात करते हुए मीरा ने बताया कि फिल्म की कहानी शैरोन स्टोन की फिल्म 'बेसिक इंस्टिंक्ट' से प्रेरित है.

'नज़र' मीरा की पहली हिंदी फिल्म थी, उसके बाद उन्होंने एक और हिंदी फिल्म 'कसक' की. उसके बाद वो ग़ायब ही हो गईं.

(वीना मलिक का अनोखा फिल्म प्रमोशन)

आखिर क्यों उन्हें यहां ज़्यादा काम नहीं मिला. इसके जवाब में मीरा कहती हैं, "बाहर से आई अभिनेत्रियों के लिए बॉलीवुड में मुक़ाम बनाना बहुत मुश्किल है. पाकिस्तानी पुरुष कलाकारों के लिए यहां फिर भी काम मिलना उतना मुश्किल नहीं है. लेकिन अभिनेत्रियों के लिए यहां बड़ी मुश्किल है. क्योंकि ये पुरुष प्रधान इंडस्ट्री है."

चुनौती

मीरा कहती हैं कि अगर उन्हें पर्याप्त मौके दिए जाएं तो वो अपना टैलेंट साबित कर सकती हैं.

(प्लेब्वॉय और वीना मलिक)

"मैं चाहती हूं कि प्रियंका चोपड़ा और विद्या बालन जैसी चोटी की अभिनेत्रियों के साथ पर्दे पर दिखूं, ताकि लोगों को समझ में आए कि ज़्यादा टैलेंटेड कौन है. ज़रा खुल कर हंगामा हो."

मीरा, सलमान और सैफ़ अली ख़ान जैसे कलाकारों के साथ भी काम करना चाहती हैं.

मीरा तो आगे ये भी कहती हैं कि वो कई अभिनेत्रियों की कामयाबी से हैरान हैं.

(अली ज़फर और बॉलीवुड)

उनके शब्दों में, "मैं भी सोचती हूं कि कटरीना कैफ को हिंदी भी नहीं आती, वो अच्छी अभिनेत्री भी नहीं हैं. फिर भी ना जाने क्यों कामयाब हैं."

अंग प्रदर्शन से गुरेज नहीं

Image caption मीरा की आने वाली फिल्म 'भड़ास' का एक दृश्य, जो 28 जून को रिलीज़ हो रही है

मीरा ये भी कहती हैं कि अगर उन्हें ऐसा कोई किरदार मिलता है जिसे कहानी की मांग के हिसाब से अंग प्रदर्शन करना है तो उन्हें इसमें एतराज़ नहीं होगा.

मीरा ने ये भी बताया कि उन्हें कई फिल्मों के प्रस्ताव मिलते रहे हैं, लेकिन किसी ना किसी वजह से वो ये फिल्में नहीं कर पाईं.

(बार सिंगर से 'आशिक़ी' तक)

"मुझे यश चोपड़ा जी ने अपनी फिल्म जब तक है जां में वो दूसरा वाला रोल ऑफर किया था. फिर इम्तियाज अली ने भी एक बार एक फिल्म का प्रस्ताव दिया था. लेकिन कुछ समस्याओं की वजह से बात बन नहीं पाई."

मीरा अपनी साथी पाकिस्तानी कलाकार वीना मलिक की तारीफ करती हैं और मानती हैं कि पाकिस्तान से आने के बावजूद भारत में वीना ने जो मुक़ाम हासिल किया है वो क़ाबिले-तारीफ है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप को डाउनलोड करने के लिए यहां क्लिक कीजिए. ताज़ा अपडेट्स के लिए आप हम से फ़ेसबुक और ट्विटर पर जुड़ सकते हैं.)

संबंधित समाचार