महिला प्रधान समाज बेहतर: शाहरुख़ ख़ान

शाहरुख़ ख़ान

अभिनेता शाहरुख़ ख़ान मानते हैं कि महिलाएं, पुरुषों की तुलना में कहीं बेहतर होती हैं.

शाहरुख़ ख़ान कहते हैं, "महिलाएं पुरुषों की तुलना में ज़्यादा सहनशील होती हैं. ज़्यादा जुनूनी होती हैं. ज़्यादा दयालु होती हैं. मुझे लगता है कि अगर समाज महिला प्रधान हो तो वो ज़्यादा बेहतर होगा. हमें देश में नवजात बच्चियों को बचाने के लिए और ज़्यादा प्रयास करने चाहिए."

(शाहरुख़ की तमन्ना)

शाहरुख़ मुंबई में फ़िटनेस से संबंधित एक किताब के विमोचन के मौके पर पहुंचे थे. वहीं एक सवाल के जवाब में उन्होंने अपने ये विचार रखे. उन्होंने कहा, "महिलाओं की मौजूदगी किसी भी जगह के माहौल को बेहतर बना देती है. ऐसी जगह पर नकारात्मकता नहीं होती. काफ़ी ऊर्जावान माहौल होता है."

फ़िटनेस

फ़िटनेस से संबंधित बातों पर शाहरुख़ ने बताया कि वो व्यायाम करना बहुत पसंद करते हैं. चाहे उन्हें घर लौटने में कितनी भी देर हो जाए, वर्जिश करना नहीं भूलते.

(सलमान पर शाहरुख़)

उन्होंने कहा, "व्यायाम करने से शरीर तो स्वस्थ रहता ही है तनाव भी दूर होता है. इसलिए नियमित तौर पर ये ज़रूरी है."

उन्होंने माना कि देर से सोना और धूम्रपान करना उनकी कुछ ऐसी बुरी आदतें हैं जिनसे वो अब तक निजात नहीं पा सके हैं.

'कमाल हैं आमिर'

शाहरुख़ अपने साथी कलाकारों में किसकी फ़िटनेस के मुरीद हैं. इस पर उन्होंने कहा, "मैं ऋतिक रोशन, जॉन अब्राहम, रणबीर कपूर और फ़रहान का प्रशंसक हूं. ये सारे कलाकार बेहद फ़िट हैं."

आमिर ख़ान की बहुप्रतीक्षित फ़िल्म 'धूम-3' के प्रोमो शाहरुख़ ने देखे और उन्होंने बताया कि आमिर इसमें बहुत अच्छे नज़र आ रहे हैं.

उन्होंने कहा, "आमिर और कटरीना दोनों कमाल के लग रहे हैं. आमिर तो वैसे भी जो कुछ भी करते हैं उसमें अपना सौ फ़ीसदी देते हैं. बहुत प्रेरणादायी कलाकार हैं वो. उनसे हम बहुत कुछ सीख सकते हैं."

90 के दशक में शाहरुख़ ख़ान ने 'बाज़ीगर', 'डर' और 'अंजाम' जैसी फ़िल्मों में नकारात्मक भूमिका की थी. उन्होंने कहा कि अगर उन्हें अच्छी स्क्रिप्ट मिले तो वो फिर से निगेटिव रोल करना चाहेंगे.

फिलहाल शाहरुख़ ख़ान फ़राह ख़ान की फ़िल्म 'हैप्पी न्यू ईयर' की शूटिंग में व्यस्त हैं जिसमें अभिषेक बच्चन, दीपिका पादुकोण और बोमन ईरानी की भी मुख्य भूमिका है. फ़िल्म अगले साल रिलीज़ होगी.

(बीबीसी हिंदी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)