करीना बनी पाकिस्तानी कंपनी की एम्बेसडर, सोशल मीडिया पर बवाल

  • 28 दिसंबर 2013

पाकिस्तान में भारतीय फ़िल्में दिखाए जाने को लेकर पिछले महीने काफ़ी विवाद रहा और मामला अदालत तक भी गया.

फ़िल्मों को लेकर भले ही विवाद रहा हो, लेकिन वहाँ का विज्ञापन जगत भारतीय सितारों को लेने में नहीं हिचकिचा रहा.

(करीना का डर)

पाकिस्तान की सबसे बड़ी मोबाइल कंपनियों में एक ने किसी पाकिस्तानी हस्ती को नहीं बल्कि बॉलीवुड की टॉप हीरोइन करीना कपूर को बतौर ब्रैंड एम्बेसडर साइन किया है.

(क्यूमोबाइल के अधिरारी ज़िशान युसूफ़ ने बीबीसी को बताया कि उन्होंने करीना को लेकर विज्ञापन बनाया है.)

हाल ही में अभिनेत्री जूही चावला ने भी पाकिस्तानी घी के लिए एक विज्ञापन किया है. इससे पहले कुछ भारतीय सितारे पाकिस्तानी विज्ञापनों में दिख चुके हैं लेकिन ज़्यादातर प्रोडक्ट पाकिस्तानी नहीं थे.

लेकिन करीना कपूर ने अब पाकिस्तान की ही बहुत बड़ी कंपनी का इश्तेहार हासिल किया है. करीना कपूर भारत में भी कई बड़े ब्रैंड्स का चेहरा हैं.

पाकिस्तानी मीडिया में करीना से जुड़ी ख़बर को काफ़ी दिलचस्पी है. वहीं सोशल मीडिया पर नज़र डालें तो इसे लेकर काफ़ी तीखी प्रतिक्रिया सामने आई है.

'पाकिस्तान में भी तो मॉडल हैं'

करीना कपूर को पाकिस्तान की एक मोबाइल कंपनी का ब्रैंड एंबैसडर बनाए जाने पर वहां सोशल मीडिया में तीखी प्रतिक्रिया हो रही है.

कंपनी के फेसबुक अकाउंट पर बहुत सारे लोगों ने इस पर कड़ा ऐतराज़ जताया है कि एक बड़ी पाकिस्तानी कंपनी ने अपने मुल्क के बजाए एक भारतीय सितारे को अपना एम्बैसडर बनाया है.

फेसबुक पर पाकिस्तान के फ़ैज़ अंसारी लिखते हैं, "पाकिस्तान में बहुत से मॉडल हैं और आपने भारतीय को ले लिया. मैं अब कभी आपका मोबाइल फ़ोन इस्तेमाल नहीं करूँगा."

जबकि सईद मोहम्मद नबील की राय मिलीजुली है. वे कहते हैं, "सब भारतीय फ़िल्में देखते हैं और भारतीय गाने सुनते हैं. एक विज्ञापन मे करीना क्या आ गई सबने ड्रामा शुरु कर दिया. कंपनी को शुभकामनाएँ लेकिन फिर भी पूछना चाहता हूँ पाकिस्तानी मॉडल क्यूँ नहीं ? तो अम्माल एन सईद ने कहा है, 'वाह करीना.'

(सैफ़ के अंतरंग दृश्यों पर करीना की राय)

लेकिन सोशल मीडिया पर ज़्यादातर लोगों ने इस पर नाराज़गी ही जताई है. लाहौर के रेहान अहमद ने लिखा है कि सारे पाकिस्तान में कोई नहीं मिला जो वहाँ की अभिनेत्री को लिया है?

भारतीय फ़िल्मों में कई पाकिस्तानी सितारे और कलाकार समय-समय पर काम करते रहे हैं जिसमें अली ज़फ़र, सलमा आग़ा, राहत फ़हत अली खान जैसे नाम शामिल हैं.

अली ज़फ़र तो यशराज बैनर से लेकर कई बड़ी हिंदी फ़िल्मों में नज़र आ रहे हैं.

वैसे पाकिस्तानी सितारों के भारतीय फ़िल्मों में काम करने को लेकर भारत में भी कई बार विवाद हो चुका है. तो पाकिस्तान में बॉलीवुड फ़िल्में दिखाने को लेकर भी पाकिस्तान में मतभेद हैं. लेकिन इसके बावजूद पाकिस्तान में भारतीय सितारों की लोकप्रियता में कमी नहीं आई है.

(बीबीसी हिंदी के क्लिक करें एंड्रॉएड ऐप के लिए क्लिक करें यहां क्लिक करें. आप हमें क्लिक करें फ़ेसबुक और क्लिक करें ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं)

संबंधित समाचार