रिएलिटी टीवी शो बिग बॉस-7 रहा बेहद ख़ास

शुरुआती दौर से ही बिग बॉस सीज़न-7 का शो अखाड़े का मैदान बना जहां एंडी और अरमान तो कभी अरमान और कुशाल लड़ते दिखे.

हद तो तब हो गई जब इस घर के अंदर अरमान और सोफ़िया का झगड़ा पुलिस स्टेशन पहुंच गया. लेकिन वहीं दूसरी तरफ़ कुशाल-गौहर के प्रेम प्रसंग और अरमान-तनिशा के क़रीबी सीन तक इस सीज़न ने अपने नाम कई नए-नए विवाद जोड़े.

सातवें सीज़न में जो कंटेस्टेंट्स आए उनके नाम पहले से ही कई विवाद से जुड़े हुए थे, लेकिन शो में आने के बाद तो जैसे उन्होंने विवादों की नई इबारत ही लिख डाली.

अरमान का बात-बात में ग़ुस्सा होकर चिल्लाना जहां बिग बॉस के पूर्व सीज़न की कंटेस्टेंट डॉली बिंद्रा की याद दिला रहा था, वहीं कुशाल द्वारा दीवार फांदकर घर से भाग जाना बिग बॉस के अबतक के सभी सीज़न में शायद एक अलग ही घटना थी.

लेकिन अब जब बिग बॉस-7 ख़त्म हो गया है तो सबने अपने गिले शिकवे भुला कर जबर्दस्त पार्टी की जिसमें बिग बॉस-7 के सभी कंटेस्टेंट मौजूद थे सिवाए सोफ़िया हयात के.

'जीतने के लिए आई थी'

बिग बॉस के घर की विजेता गौहर ख़ान, रनर अप तनीशा मुखर्जी और तीसरे नंबर पर रहने वाले एजाज़ खान ने बिग बॉस के घर पर रहने का अनुभव साझा किया.

गौहर अपने वोटरों का शुक्रिया अदा करती हुई कहती हैं, ''मेरे सभी शुभ चिन्तक, मेरा परिवार और मेरे दोस्तों का शुक्रिया जिनकी बदोलत में जीत पाई. मैं रोज़ ऊपर वाले से दुआ करती थी की मैं जीत जाऊं और में इस शो में आई ही थी जीतने के लिए लेकिन मुझे कभी नहीं लगता था कि मैं जीत जाऊंगी क्योंकी मेरा मुक़ाबला तनीशा के साथ था जो कि बहुत ही कड़ा मुक़ाबला था. जब मैंने ग्रांड फ़िनाले में तनूजा जी को देखा तो मुझे लगा कि तनीशा ही जीतेगी लेकिन जब मेरा नाम पुकारा गया तो मुझे एक झटका सा लगा.''

गौहर ने आगे कहा, ''मैं कुशाल से सच में प्यार करती थी इस से पहले भी बिग बॉस के घर पर लोगों को प्यार हुआ लेकिन लगता है मीडिया से या लोगों के डर से उन्होंने बोला नहीं, लेकिन मैंने सबके सामने अपने प्यार का इज़हार किया और लोगों को मेरी यही सच्चाई पसंद आई.''

जहा एक तरफ़ गौहर ने सबके सामने अपने प्यार का इज़हार किया वहीं तनीशा ने भी घर से बाहर आकर कहा कि वो और अरमान बहुत अच्छे दोस्त हैं, अरमान उन्हें हमेशा सपोर्ट करता है.

तनीशा ने कहा, ''मैं उम्मीद करती हूँ कि मैंनें बहुत लोगों के दिल जीते हैं. मैंने बिग बॉस के घर पर कई दोस्त बनाए जो हमेशा मेरे दोस्त रहेंगे जैसे एंडी, इल्ली और अरमान. मेरे परिवार वाले मुझसे और अरमान से नाराज़ नहीं हैं. मेरी फ़ैमिली मेरे लिए बहुत प्रोटेक्टिव है वो नहीं चाहते थे कि उनकी बेटी किसी भी लड़ाई में शामिल हो और मेरी फ़ैमिली बहुत ख़ुश है मुझ से.''

जब तनीशा से पूछा गया कि क्या उन्होंने अरमान से दोस्ती सिर्फ़ बिग बॉस के घर पर रहने के लिए ही की थी इस पर तनीशा का कहना था, ''मुझे गेम खेलना नहीं आता है.''

तनीशा ने आगे कहा, ''मुझे ख़ुशी है की गौहर ख़ान जीत गईं लेकिन मुझे नहीं पता कि हम आगे कभी बात करेंगे या नहीं. मैं बस इतना ही कहूंगी कि बिग बॉस के घर पर रहने से मैंने बहुत कुछ सीखा और जिसे मैं कभी नहीं भुला सकती.''

गौहर और तनीशा के बाद एजाज़ रहे दर्शको के पसंदीदा और शायद यही वजह है कि उन्हें मिला तीसरा स्थान.

ऐजाज़ से जब पूछा गया कि आप हमेशा कैमरे के सामने ही क्यों रोया करते थे इस पर एजाज़ कहते हैं, ''मैं एक एक्टर हूँ और मैं एक सच्ची एक्टिंग कर रहा था. मैं दर्शकों और घर में रहने वाले सभी लोगों को इंटरटेन कर रहा था. मेरे आने से पहले बिग बॉस इतना इंटरटेनिंग नहीं था.''

एजाज़ ने कहा कि बिग बॉस के घर पर उनका सबसे अच्छा दोस्त उनका कैमरा था क्योंकि वो कैमरे से बहुत प्यार करते हैं.

(बीबीसी हिंदी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार