अमन की आशा जो बन गई 'टोटल स्यापा'

इमेज कॉपीरइट official poster

पाकिस्तानी गायक और अब बॉलीवुड अभिनेता अली ज़फ़र की नई फ़िल्म 'टोटल स्यापा' की रिलीज़ नज़दीक है.

हालांकि इस फ़िल्म का नाम पहले ये नहीं रखा गया था. शुरूआत में इसे 'अमन की आशा' नाम दिया गया था.

तो क्या वजह थी कि अमन की आशा बदल गई टोटल स्यापा में. इस सवाल का जवाब दिया फ़िल्म के मुख्य अभिनेता अली ज़फ़र ने.

(विद्या बालन झेल रही हैं साइड इफ़ेक्टस)

बीबीसी से ख़ास बातचीत में अली ज़फ़र ने बताया,''दरअसल इस फ़िल्म के अंदर इतना स्यापा है कि हमें लगा फ़िल्म का नाम भी टोटल स्यापा होना चाहिए. जो पंजाबी लोग इस शब्द को समझते हैं उन्हें पता है कि स्यापा का मतलब है तबाही.''

अली का दावा है कि "फ़िल्म के अंदर इतना स्यापा मचता है कि आप हंस-हंस कर परेशान हो जाएंगे. वो भी सिर्फ़ इसलिए कि एक लड़का लड़की का हाथ मांगने चला जाता है और वो हिंदुस्तानी है जबकि लड़का पाकिस्तानी."

जिंदगी में स्यापा

अली ज़फ़र ने अब तक 'तेरे बिन लादेन', 'मेरे ब्रदर की दुल्हन' और 'चश्मेबद्दूर' जैसी फ़िल्मों में काम किया है जिनमें हीरो की ज़िंदगी अक्सर उलझी ही रहती है.

इमेज कॉपीरइट official publicity materail

यह पूछने पर कि क्या अली की निजी ज़िंदगी में इस फ़िल्म जैसा कुछ स्यापा हुआ है कभी, अली कहते हैं, ''जिंदगी में तो चलता ही रहता है. मुझे लगता है सबसे ज़्यादा स्यापा तो राजनैतिक होता है. हर रोज़ टीवी चैनलों पर एक स्यापा होता है लगता है जैसे दुनिया बस ख़त्म ही होने वाली है. मुझे लगता है एक न्यूज़ चैनल होना चाहिए जिसका नाम हो टोटल स्यापा.''

सबसे सेक्सी पुरूष

अली ज़फ़र को हाल ही में एक अख़बार की तरफ़ से दुनिया का सबसे सेक्सी पुरूष घोषित किया गया था.

इससे भी बड़ी बात ये है कि उन्होने रितिक रोशन को हराकर ये जगह बनाई. हालांकि अली ख़ुद इस बात पर हैरान हैं.

(होठों पर हंगमा क्यों)

इसका ज़िक्र करने पर अली कहते हैं, ‘‘मुझे नहीं पता कैसे किया है. अच्छी बात है अगर फ़ैंस ऐसा समझते हैं तो. मैं ख़ुशनसीब हूं लेकिन बहुत सारे मर्द मुझसे बेहतर दिखते हैं और शायद सेक्सी भी.’’

‘टोटल स्यापा’ में अली ज़फ़र के साथ दिखेंगी अभिनेत्री यामी गौतम.

(बीबीसी हिन्दी के क्लिक करेंएंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार