सलमान ख़ान के लिए कुछ भी कर सकती हूं: मीरा चोपड़ा

  • 13 मार्च 2014
मीरा चोपड़ा इमेज कॉपीरइट Meera Chopra

परिणीति चोपड़ा के बाद अब प्रियंका चोपड़ा की एक और बहन मीरा चोपड़ा बॉलीवुड में क़दम रखने जा रही हैं. हालांकि परिणीति की तरह वो भी प्रियंका की सगी बहन नहीं है और दूर के रिश्ते में उनकी बहन लगती हैं.

लेकिन प्रियंका जैसी बड़ी सुपरस्टार की रिश्तेदार होने के बावजूद मीरा मानती हैं कि उन्हें इस बात का कोई फ़ायदा नहीं मिला.

(प्रियंका से नहीं ली प्रेरणा: परिणीति)

बीबीसी से ख़ास बातचीत करते हुए मीरा ने कहा, "प्रियंका की बहन होने से बस होता ये है कि बॉलीवुड में लोग आपसे तमीज़ से पेश आते हैं, बस. इससे आगे कुछ नहीं. इसके अलावा मुझे कोई फ़ायदा नहीं मिला. यहां लोग बड़े प्रोफ़ेशनल हैं. सब कुछ ख़ुद करना पड़ता है."

'किसी टिप्स की ज़रूरत नहीं'

मीरा की पहली हिंदी फ़िल्म है 'गैंग ऑफ़ घोस्ट्स', जो 21 मार्च को रिलीज़ हो रही है. इससे पहले वो कई दक्षिण भारतीय फ़िल्में कर चुकी हैं. क्या वो परिणीति और प्रियंका से कोई टिप्स लेती हैं.

(मेरे लायक कोई नहीं बना: प्रियंका)

इमेज कॉपीरइट Meera Chopra
Image caption मीरा चोपड़ा कहती हैं कि वो अंग प्रदर्शन नहीं करेंगीं.

इसके जवाब में मीरा ने कहा, "मेरे पास दक्षिण भारतीय फ़िल्में करके ख़ासा अनुभव आ चुका है. मुझे किसी की टिप्स की ज़रूरत ही नहीं. मुझे पता है कि बॉलीवुड में क्या करना है. हां कभी-कभी मैं प्रियंका से ज़रूर सलाह ले लेती हूं और वो मुझे हर बार सही सलाह देती हैं."

वैसे मीरा ने बताया कि प्रियंका या परिणीति से वो ज़्यादा मिलती नहीं है लेकिन प्रियंका के काम से ज़रूर प्रभावित हैं.

वो कहती हैं, "प्रियंका बहुत बड़ी सुपरस्टार हैं. उन्होंने हर तरह के रोल किए हैं. कमाल की अदाकार हैं. दीपिका पादुकोण के काम से भी मैं प्रभावित हूं."

इसके अलावा वो सलमान ख़ान की बहुत बड़ी प्रशंसक हैं. मीरा ने कहा, "सलमान तो कमाल हैं. मैं उनके लिए कुछ भी कर सकती हूं. उनके लिए क्रेज़ी हूं. उनके साथ फ़िल्म करने को मिल जाए तो मज़ा ही आ जाए."

अंग प्रदर्शन गवारा नहीं

मीरा ने ये भी बताया कि वो एक्सपोज़ करने में सहज नहीं है. "मैंने अब तक वो रोल स्वीकार नहीं किए हैं जिनमें अंग प्रदर्शन करना हो. मैं ऐसे रोल करने में सहज नहीं हूं. तंग कपड़े पहनने वाले रोल मुझे मंज़ूर नहीं. बिकिनी पहनना भी मुझे गवारा नहीं है. आगे भी ऐसे रोल नहीं करूंगी."

(सोनम ने बिकिनी पहनने को जायज़ ठहराया)

'गैंग ऑफ़ घोस्ट्स' में शरमन जोशी, माही गिल, अनुपम खेर और असरानी जैसे कलाकारों के भी अहम रोल है. इसके निर्देशक सतीश कौशिक हैं.

कैसे हुई शुरुआत

इमेज कॉपीरइट Meera Chopra

मीरा ने बताया कि वो फ़िल्मों में नहीं आना चाहती थीं बल्कि पत्रकार बनना चाहती थीं और अमरीका में उन्होंने पत्रकारिता का कोर्स भी किया.

मीरा इसके अलावा मॉडलिंग भी करती थीं और उनका एक विज्ञापन देखकर उन्हें एक तमिल फ़िल्म करने का प्रस्ताव आया और इस तरह से उनका फ़िल्मी सिलसिला शुरू हो गया.

लेकिन वो साफ़ तौर पर कहती हैं कि एक उत्तर भारतीय होने के नाते हिंदी फ़िल्में उनकी पहली पसंद हैं.

वो कहती हैं, "मैंने दक्षिण भारतीय फ़िल्मों में काम करना छोड़ दिया है. क्योंकि जब मुझे हिंदी फ़िल्मों के प्रस्ताव मिल रहे हैं तो मैं वो फ़िल्में क्यों करूं जिनमें मैं कंफ़र्टेबल महसूस ना करती हूं. अब मैं सिर्फ़ बॉलीवुड में ही फ़ोकस करना चाहती हूं."

'गैंग ऑफ़ घोस्ट्स' के बाद मीरा, विक्रम भट्ट की एक फ़िल्म में काम कर रही हैं.

(बीबीसी हिंदी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार