कपिल–सुनील मक्खी, राजू श्रीवास्तव गुड़ !

राजू श्रीवास्तव इमेज कॉपीरइट Raju Srivastava

“वो मेरे पास आए, कहने लगे शो तो आपको करना ही पड़ेगा, मैं काफ़ी बिज़ी था, तो मैंने अपने शेड्यूल के हिसाब से उनको समय दे दिया. वैसे भी अभी चुनावों के चलते मैं काफ़ी बिज़ी हूं”

ये कहना था राजू श्रीवास्तव का, जब बीबीसी से एक ख़ास मुलाक़ात के दौरान जब हमने ये सवाल उन पर दागा कि आप इन दिनों 'कॉमेडी नाइट्स विद कपिल' में सेकेंड लीड के तौर पर क्यों आ रहे हैं ?

(एकता कपूर का डर)

राजू श्रीवास्तव 1988 से स्टैंड अप कॉमेडी करते आ रहे हैं. उन्होंने 80 और 90 के दशक में 'तेज़ाब', 'बाज़ीगर' और 'मैंने प्यार किया' जैसी फ़िल्मों में छोटी-मोटी भूमिकाएं कीं.

2005 में 'ग्रेट इंडियन लाफ़्टर चैलेंज' में वो छठे स्थान पर रहे लेकिन फिर 'ग्रेट इंडियन लाफ्टर चैलेंज– चैंपियंस' में उन्होने 'किंग ऑफ़ कॉमेडी' का ख़िताब जीता.

(कॉमेडी शोज़ की 'फ़ूहड़ हंसी')

इसके बाद राजू श्रीवास्तव को घर-घर में जाना जाने लगा और वो हिंदी स्टैंड अप कॉमेडी का पर्याय बन गए.

लेकिन फिर ऐसा क्या हो गया कि उन्हें सेकेंड लीड आर्टिस्ट के तौर पर छोटे पर्दे पर वापसी करनी पड़ी. वो भी कपिल शर्मा के शो पर जो उनसे अच्छे ख़ासे जूनियर हैं.

'गया गुरु-चेले का ज़माना'

इमेज कॉपीरइट Raju Srivastava
Image caption राजू श्रीवास्तव, 'कॉमेडी नाइट्स विद कपिल' का हिस्सा हैं.

राजू तपाक से जवाब देते हैं “अब वह पहले वाली बात नहीं है कि आप सीनियर हो या जूनियर. अब गुरु-चेला नहीं दोस्त बनने का वक़्त है. ये सवाल तो आप पूछ रहे हैं लेकिन दर्शकों को इस बात से फ़र्क नहीं पड़ता कि कौन सीनियर है और कौन जूनियर. हमारा काम हंसाना है सो हम कर रहे हैं.”

लेकिन इस वापसी में एक पेंच और है. राजू अब कपिल शर्मा के शो पर नज़र आ रहे हैं और कहा जा रहा है कि यह उनके प्रतियोगी सुनील ग्रोवर को करारा जवाब है, जो एक दूसरे चैनल पर अपना शो 'मैड इन इंडिया' लेकर आ रहे हैं.

कपिल–सुनील मेरे छोटे भाई

एक कहावत है कि “दो पाटन के बीच में, साबुत बचा न कोई”. राजू श्रीवास्तव ने कपिल के शो से छोटे पर्दे पर वापसी कर जाने-अनजाने सुनील ग्रोवर और कपिल शर्मा के बीच की 'जंग' में खुद को जोड़ लिया है.

(कॉमेडी शोज़ में ख़रीदी गई हंसी)

ऐसे में राजू श्रीवास्तव यह बताना नहीं भूले कि उन्होने टेलीविज़न पर वापसी के लिए कपिल के शो का ही चुनाव क्यों किया?

“कपिल और सुनील मेरे छोटे भाई जैसे हैं. जब ये पहली बार मुंबई आए थे, तो मुझसे आकर मिले थे, बहुत प्यार करते हैं मुझसे. मैं इनके पास नहीं गया बल्कि इन दोनों ने बहुत पहले मुझे अपने शो में आने के लिए कहा था. मैंने दोनों को ही हां की थी. पर कपिल के शो पर पहले आने के कारण अब तक़नीकी कारणों से सुनील को वक़्त नहीं दे पा रहा हूं”

ये 'तक़नीकी' कारण क्या हैं, इस पर राजू ने मुस्कुराते हुए बस इतना भर कहा “आप चैनलों की लड़ाई तो जानते ही हैं, इसमें हम क्या कर सकते हैं.”

ख़ुद का शो

वैसे तो राजू ने अपने 'सेकेंड इन लीड' भूमिका में आने के पीछे कई तर्क दिए जैसे चुनाव में भारी व्यस्तता, कपिल का आग्रह, बदलता समय लेकिन कुछ पलों बाद ही उन्होंने कहा.

“मुझे अभी तक ऐसा नहीं लग रहा है कि मैं सेकेंड इन लीड हूं. मुझसे आग्रह करके मुझे बुलाया गया है और अगर मुझे कभी भी ऐसा महसूस हुआ, तो हो सकता है आप मुझे, मेरे एक नए शो के साथ देखेंगे. कुछ चैनलों से मेरे पास ऑफ़र भी हैं.”

(बीबीसी हिंदी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार