ये सभी नेता एक नंबर के जोकर और कार्टून हैं: कंगना

कंगना रानाउत

'क्वीन' की आपार सफलता के बाद फिर से कंगना रानाउत दिखेंगी एक बिल्कुल ही बोल्ड अवतार में.

'रिवॉल्वर रानी' है कंगना रानाउत की नई फ़िल्म का नाम जो शुक्रवार को रिलीज़ हो रही है.

फ़िल्म में कंगना एक राजनैतिक पार्टी की नेता बनीं हैं और उनके साथ दिखेंगे कॉमेडियन वीर दास लीड रोल में. फ़िल्म 'क्वीन' के बाद अब कंगना के प्रशंसकों की उम्मीद उनसे बढ़ गई है. मीडिया से इस फ़िल्म के अलावा कंगना ने मौजूदा राजनीतिक दौर की और चुनावों की भी बातें कीं.

'जोकर हैं राजनेता'

'रिवॉल्वर रानी' में कंगना रानाउत का लुक और किरदार काफी चर्चा में हैं. उनके किरदार का नाम है अलका सिंह.

पर ये फ़िल्म है क्या और इस किरदार अलका सिंह को खुद के कितना क़रीब पाती हैं कंगना?

कंगना ने कहा, "देखिये ये फ़िल्म एक ट्रेजडी है. इसमें जो निर्देशक (साई कबीर श्रीवास्तव) की सोच है आधुनिक समाज को लेकर वो काफ़ी हास्यास्पद है. इस फ़िल्म में ये दिखाया गया है कि जिन नेताओं पर हम विश्वास करते हैं उन्हें चुनते हैं, फिर उन्हें वो सारे संसाधन मिलते हैं और वो किस तरह उन सारे संसाधनों को निजी तौर पर इस्तेमाल करते हैं."

वो आगे कहती हैं, "अलका एक फ़ैशनेबल नेता है और वो बिल्कुल वैसा ही बर्ताव करती है जैसा असल ज़िंदगी में कई नेता करते हैं. ये राजनेता सब एक नंबर के जोकर और कार्टून हैं और हमारी फ़िल्म इसी बात के इर्द-गिर्द बनी है."

क्या 'क्वीन' की सफलता का मिलेगा सहारा?

इमेज कॉपीरइट hoture images

'रिवॉल्वर रानी' कंगना रानाउत की इस साल आने वाली दूसरी फ़िल्म है. इससे पहले कंगना की फ़िल्म आई 'क्वीन' जिसे दर्शकों और समीक्षकों से ख़ूब वाहवाही मिली.

तो क्या 'क्वीन' की सफलता से फ़िल्म 'रिवॉल्वर रानी' को कुछ मदद मिल पाएगी?

इस सवाल पर कंगना बोलीं, "जब क्वीन रिलीज़ होने वाली थी तब भी हमें कुछ नहीं पता था कि दर्शकों को ये पसंद आएगी या नहीं? पर जब फ़िल्म रिलीज़ हुई तो लोगों को पसंद आई. एक बात जो हमें पहले से पता थी वो ये कि क्वीन एक बेहतरीन फ़िल्म है."

वो आगे कहती हैं, "अगर लोगों को क्वीन पसंद न भी आती तब भी वो हमारे लिए एक बेहतरीन फ़िल्म रहती और यही बात मैं रिवॉल्वर रानी के लिए कहना चाहूंगी. लोगों को ये फिल्म पसंद आनी चाहिए."

Image caption कंगना ने फ़िल्म 'क्वीन' के कुछ डायलॉग्स खुद लिखे.

'मैं अभी भी एक स्ट्रगलर हूं'

कंगना रानाउत अब तक मिली कामयाबी के बावजूद अपने आपको स्ट्रगलर मानती हैं.

उन्होंने कहा, "मैं एक स्ट्रगलर हूं और मुझे लगता है कि हम सब ज़िंदगी के अलग अलग मुक़ाम पर स्ट्रगल करते हैं. फ़िल्म 'क्वीन' के दौरान भी मैंने काफ़ी स्ट्रगल किया. मैंने ख़ुद अपने डायलॉग लिखे और वो भी मेरे लिए एक स्ट्रगल था क्योंकि आप अपनी सीमा नहीं जानते हैं."

(बीबीसी हिंदी के एंड्रॉइड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप बीबीसी हिंदी के फ़ेसबुक और ट्विटर पेज से भी जुड़ सकते हैं)

संबंधित समाचार