'मेरे साथ छेड़खानी की, समझौता करने को कहा'

ताज होटल

बॉलीवुड में कहा जाता है कि हर कामयाबी के पीछे अनगिनत नाकामयाबियां होती हैं. कामयाबी तो नज़र आ जाती है लेकिन नाकामयाबियों पर लोगों की निगाहें नहीं जातीं.

हर रोज़ ना जाने कितने ही लोग मुंबई आते हैं ग्लैमर वर्ल्ड में अपना नाम कमाने.

अमिताभ बच्चन, शाहरुख़ ख़ान और माधुरी दीक्षित बनने का सपना संजोए.

लेकिन क्या होता है उनके साथ? 'हीरो' की नहीं बल्कि 'हीरो' बनने की कोशिश और सिर्फ़ कोशिश की कहानी कैसी होती है?

बुरे हादसे

विनीत काकर एक ऐसे ही एक स्ट्रगलर हैं जो मुंबई में रहते हैं. जिनका संघर्ष ख़त्म होने का नाम ही नहीं ले रहा है. विनीत का सारा परिवार कनाडा में बस चुका है जहां उनका अच्छा कारोबार है.

इमेज कॉपीरइट Vishal Saxena

विनीत कहते हैं, "चार साल पहले मेरा ये संघर्ष शुरू हुआ था जो अब तक चले जा रहा है."

विनीत ने बताया कि इस संघर्ष के दौरान उन्हें बहुत कुछ झेलना पड़ा.

विनीत के मुताबिक़, "बड़े-बड़े प्रोडक्शन हाउस के मालिकों ने मेरे साथ छेड़खानी की. मुझे समझौता करने को कहा गया. मुझ पर शारीरिक संबंध बनाने के लिए ज़ोर दिया गया."

कास्टिंग काउच

विनीत ने दावा किया कि पहले इंडस्ट्री में लोग सीधे-सीधे ऐसी बातें नहीं करते थे. घुमा फिरा कर अशोभनीय प्रस्ताव देते थे. लेकिन अब सीधे ही शारीरिक संबंध बनाने की बात करते हैं.

इमेज कॉपीरइट Vishal Saxena

विनीत ने कहा, "मेरे साथ कुछ बड़े कास्टिंग डायरेक्टर ने अपने ऑफिस बुलाकर कई अश्लील बातें की. जैसे क्या मैं तुम्हे यहां छू सकता हूं, वहां छू सकता हूं. मेरे लाख मना करने के बाद भी वह मेरे पीछे पड़े रहे."

विनीत अपनी बात रखते हुए कहते हैं कि ग्लैमर जगत में ज़्यादातर लोग काम के बदले समझौता करने को कहते हैं और अगर इंडस्ट्री में टैलेंट नहीं आ पाता है तो उसका सबसे बड़ा कारण हैं कास्टिंग काउच.

(रिपोर्ट के अगले हिस्से में हम बताएंगे कुछ महिला कलाकारों के संघर्ष की दास्तान)

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार