मैं ख़ानों की चहेती नहीं हूं: बिपाशा बसु

बिपाशा बसु इमेज कॉपीरइट AFP

पिछले चार साल में 'दम मारो दम', 'प्लेयर्स', 'रेस 2' और 'हमशकल्स' जैसी फ़िल्मों में छोटे मोटे रोल और 'आत्मा', 'जोड़ी ब्रेकर्स' जैसी सुपरफ़्लॉप फ़िल्में. बिपाशा बसु के हिस्से सिर्फ़ यही आया है.

अब एक और छोटे बजट की फ़िल्म 'क्रीचर' में बिपाशा बसु दिखेंगी.

करियर में आए इस ज़बरदस्त ढलान की वजह क्या है ?

बीबीसी से बात करते हुए बिपाशा बोलीं, "मैं तीनों ख़ान की चहेती नहीं हूं ना. सलमान और शाहरुख़ मेरे दोस्त हैं, लेकिन मेरे साथ काम नहीं किया."

लेकिन बिपाशा अपने करियर को लेकर हताश भी नहीं है. वो कहती हैं, "यहां कई कलाकार एक फ़िल्म के बाद ग़ायब हो जाते हैं. मैंने बिना किसी कैंप या हीरो के सहारे 14 साल गुज़ारे. कोई छोटी बात है क्या."

अपमानजनक अनुभव

इमेज कॉपीरइट Aatma

साजिद ख़ान निर्देशित फ़िल्म 'हमशकल्स' में बिपाशा बसु भी थीं लेकिन वो इसमें काम करने को एक कड़वा अनुभव मानती हैं.

बिपाशा के मुताबिक़, "फ़िल्म बनने की प्रक्रिया मेरे लिए बड़ी अपमानजनक और तकलीफ़देह रही. इतने साल इंडस्ट्री में गुज़ारने के बाद मैंने नहीं सोचा था कि मुझे इस अनुभव से गुज़रना पड़ेगा."

बिपाशा 'हमशकल्स' के किसी प्रमोशन में नज़र नहीं आई थीं और ना ही फ़िल्म के ट्रेलर में उन्हें जगह मिली थी.

इमेज कॉपीरइट AP

हालांकि फ़िल्म फ़्लॉप हो गई थी और बाद में इसके हीरो सैफ़ अली ख़ान ने ऐलान किया था कि वो दोबारा साजिद ख़ान के साथ काम नहीं करेंगे.

बिपाशा ने माना कि जॉन अब्राहम के साथ अलगाव के बाद वाला समय उनके लिए मुश्किल रहा.

'क्रीचर' एक हॉरर फ़िल्म है जिसके निर्देशक विक्रम भट्ट हैं. बिपाशा की ये फ़िल्म 12 सितंबर को रिलीज़ होगी.

(बीबीसी हिंदी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार