परिणीति की नौकरी गई तो हीरोइन बनीं

  • 31 अगस्त 2014
परिणीति चोपड़ा

परिणीति चोपड़ा आजकल बॉलीवुड की सबसे चर्चित अभिनेत्रियों में से हैं लेकिन उन्होंने हमेशा इस करियर का सपना नहीं देखा था.

लंदन में एक कंपनी में काम कर रही परिणीति वहीं बस जाना चाहती थीं लेकिन उन्हें वापस आना पड़ा.

परिणीति कहती हैं, "अगर मंदी की वजह से मेरी नौकरी नहीं जाती तो मैं भारत वापस आती ही नहीं. मैं पेशे से बैंकर हूं. इंवेस्टमेंट बैंकिंग में ही करियर बनाना चाहती थी. अभिनय की बात छोड़िए मैं तो वापस ही नहीं आती."

हाल ही में परिणीति 'कौन बनेगा करोड़पति' के सातवें संस्करण में गई थीं. जब अमिताभ बच्चन ने उनकी तारीफ़ में गाना गाया तो वो भावुक हो गईं.

अपनी दूसरी ही फ़िल्म 'इशकज़ादे' के लिए राष्ट्रीय पुरस्कार जीतने वाली यह युवा अभिनेत्री कहती हैं, "जब कोई निर्देशक मेरे पास रोल लेकर आता है और यह कहता है कि हमारे पास बेहद सशक्त किरदार है जो सिर्फ़ आप निभा सकती हैं तो ये बहुत सुखद अहसास होता है."

परिणीति ने सिर्फ़ तीन फ़िल्में की हैं और उनकी चौथी फ़िल्म ‘दावत-ए-इश्क़’ रिलीज़ के लिए तैयार है.

इससे पहले वो 'इशकज़ादे' के अलावा 'लेडीज़ वर्सेस रिकी बहल' और 'शुद्ध देसी रोमांस' में दिखी हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार