उम्रदराज़ बच्चों की कमसिन 'मम्मियां'

स्नेहा वाघ इमेज कॉपीरइट Sneha Wagh

पच्चीस-तीस साल के लड़के, लड़कियों को लाड़ करतीं, उन्हें पुचकारती और कभी-कभी डांट पिलातीं छोटे पर्दे की माताएँ.

इन्हें उम्रदराज़ दिखाने के लिए कभी-कभी बालों में सफ़ेदी लगा दी जाती है और कभी इतनी भी ज़हमत नहीं उठाई जाती.

क्या आपको पता है कि टीवी पर ये जिन कलाकारों की मां या सास की भूमिका निभाती हैं, उन कलाकारों की उम्र इनके बराबर या कई बार ज़्यादा भी होती है.

कम उम्र में 'मां' बनने से इनके करियर पर क्या असर पड़ता है?

कैसा अनुभव होता है 'उम्रदराज़' बच्चों की मां की भूमिका निभाने का.

जानते हैं ऐसी ही कुछ अभिनेत्रियों से.

लता सभरवाल

इमेज कॉपीरइट Lata Sabharwal

लखनऊ की रहने वाली लता सभरवाल ने 22 साल की उम्र में छोटे पर्दे की दुनिया में क़दम रखा.

कई डेली सोप्स में काम कर चुकीं लता, इन दिनों 'ये रिश्ता क्या कहलाता है' में काम कर रही हैं.

वो अब तक एक मां, सास और दादी तक के किरदार निभा चुकी हैं. लेकिन असल ज़िंदगी में वो हाल ही में मां बनी हैं.

वो कहती हैं, "जब 'ये रिश्ता क्या कहलाता है' का ऑफ़र आया तो सोचा कि ये 'मां' का रोल करूं या नहीं. बहुत सोच-विचार के मैंने हां कर दी. क्योंकि वैसे भी अब टीवी में बहुत कुछ करने को बचा ही नहीं. सीरियल में ज़्यादा रोल और डायलॉग या तो लीड कलाकार के होते हैं या मां के किरदार को मिलते हैं. बाक़ियों के लिए कुछ नहीं होता."

लता बताती हैं कि जब बाहर लोग उन्हें देखते हैं तो हैरान रह जाते हैं कि इतनी कम उम्र की लड़की 'मां' का रोल कैसे कर लेती है.

रुशाली अरोरा

इमेज कॉपीरइट Rusali Arora

रुशाली ने अपने टीवी करियर की शुरुआत ही मां के तौर पर की. एकता कपूर के शो 'क्योंकि सास भी कभी बहू' में इन्होंने जब सास का किरदार निभाया तो रुशाली सिर्फ़ 23 साल की थीं.

और रुशाली के मुताबिक़ इसका 'ख़ामियाज़ा' उन्हें भुगतना पड़ा.

रुशाली कहती हैं, "मैं ये रोल निभाने के बाद टाइपकास्ट हो गई. लगातार ऐसे ही रोल मुझे ऑफ़र होने लगे. लेकिन फिर ऐसे किरदारों में अभिनय करने का भी मौक़ा मिलता है. वर्ना भाभी या दूसरे किरदार तो सिर्फ़ साइड में खाली एक्सप्रेशन देने के लिए खड़े रहते हैं."

रुशाली ने 'रंग बदलती ओढ़नी' नाम के एक डेली सोप में भी कड़क सास का रोल निभाया.

स्नेहा वाघ

इमेज कॉपीरइट Sneha Wagh

स्टार प्लस के सीरियल 'वीरा' में रणविजय और वीरा की मां रतन बीजी का किरदार निभाने वाली स्नेहा वाघ सिर्फ़ 26 साल की हैं.

सीरियल में उनके बेटे और बहू का रोल निभाने वाले कलाकार भी लगभग उन्हीं के बराबर हैं.

स्नेहा कहती हैं, "मेरे मां-बाप ने बहुत मना किया. कहा कि तू उनकी मां लगेगी ही नहीं. मेरे दोस्त मुझे 25 साल की मम्मी कहकर चिढ़ाते हैं. लेकिन मेरे हिसाब से ये चुनौतीपूर्ण रोल था. इसलिए मैंने ये कर लिया."

लेकिन स्नेहा हर बार मां बनने का 'चैलेंज' लेने को तैयार नहीं. वो कहती हैं, "दूसरे सीरियल में अब मां नहीं बनूंगी. कुछ अलग करने को मिलेगा तो करूंगी वर्ना घर बैठूंगी."

अस्मिता शर्मा

इमेज कॉपीरइट Asmita Sharma

मशहूर सीरियल 'प्रतिज्ञा' में जब अस्मिता शर्मा ने 60 साल की ठकुराइन का रोल निभाया तो वो महज़ 27 साल की थीं.

सीरियल में जिन कलाकारों ने उनके बेटे का रोल निभाया वो असल ज़िंदगी में उनसे ज़्यादा उम्र के हैं.

अस्मिता शर्मा कहती हैं, "प्रतिज्ञा में मुझे लीड रोल भी मिलता तो मैं ना करती क्योंकि मुझे आंसू बहाने वाली दुखियारी बहू का किरदार पसंद ही नहीं. इसलिए मैंने कड़क, खड़ूस सास के रोल को चुना."

अस्मिता के परिवार वाले उनके इस किरदार को निभाने से ख़ुश नहीं थे.

वो बताती हैं, "मेरे परिवार वाले कहते थे कि इतनी ज़्यादा उम्र वाला रोल क्यों किया. क्यों ऐसे किरदार कर रही हो जिसे गालियां मिलती हैं."

वो कहती हैं कि असल ज़िंदगी में लोग उन्हें आंखें फाड़-फाड़ के देखते हैं कि इतनी जवान लड़की ने कैसे वो रोल किया.

अस्मिता को पता है कि टीवी में कलाकार बहुत जल्द टाइपकास्ट होते हैं और उनके पास अब बार-बार सास वाले किरदार आते हैं लेकिन अब उन्होंने ऐसे रोल के लिए मना करना शुरू कर दिया है.

(बीबीसी हिंदी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार