आलिया और श्रद्धा से मुक़ाबला नहीं: परिणीति

तीन साल के भीतर बॉलीवुड में अपना ख़ास मुक़ाम बना लेने वाली परिणीति चोपड़ा का कहना है कि वो दूसरी अभिनेत्रियों से मुक़ाबले करने में नहीं, बल्कि सीखने में विश्वास रखती हैं.

परिणीति कहती हैं, ‘‘मैं जब आलिया भट्ट और श्रद्धा को देखती हूं तो मैं ऐसे नहीं देखती कि इनसे मेरा मुक़ाबला. मैं उनकी फ़िल्मों में देखूंगी कि कौन सा शॉट अच्छा है. कहां वो बहुत ख़ूबसूरत लग रही. मेरी सोच ऐसी ही है’’.

अभिनेत्री आलिया भट्ट को भी ख़ासी सफलता मिल रही है तो श्रद्धा कपूर के हाथ में भी कई बड़ी फ़िल्में हैं.

अभिनय नहीं आसान

इमेज कॉपीरइट AFP
Image caption दावत-ए-इश्क़ शुक्रवार को रिलीज़ हुई

परिणीति ने अब तक भले ही पांच फ़िल्में कर ली हों लेकिन फ़िल्मों में आने से पहले एक्टिंग को लेकर उनके ख़्याल ज़रा नकारात्मक थे. यहां तक कि वो फ़िल्म इंडस्ट्री के ख़िलाफ़ थीं.

वो कहती हैं, "मैं बैंकर थी और मुझे समझ नहीं आता था. मैं अपने आपको बड़ा अक़्लमंद समझती थी कि जो काम हम करते हैं वही असली है. एक्टिंग तो बड़ा आसान काम है. जब मैने यशराज में क़दम रखा और काम शुरू किया तो पता चला कि इसमें भी बहुत अक़्ल लगती है."

परिणीति की नई फ़िल्म 'दावत-ए-इश्क़' फिलहाल सोनम कपूर की ‘ख़ूबसूरत’ से बॉक्स ऑफ़िस मुक़ाबला कर रही है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार