नग्नता के पीछे मक़सद ज़रूरी: नंदना सेन

रंगरसिया इमेज कॉपीरइट RANGRASIYA

'नग्नता बेमक़सद नहीं होनी चाहिए.' ये कहना है अभिनेत्री नंदना सेन का.

नंदना, मशहूर लेकिन विवादास्पद चित्रकार राजा रवि वर्मा के जीवन पर आधारित फ़िल्म 'रंगरसिया' में उनकी प्रेमिका की भूमिका निभा रही हैं.

फ़िल्म सात नवंबर को रिलीज़ हो रही है और इसमें नंदना का ख़ासा बोल्ड किरदार है.

उनके साथ रणदीप हुडा भी फ़िल्म में हैं.

बोल्ड फ़िल्म

इमेज कॉपीरइट RANGRASIYA

नंदना ने बीबीसी से कहा, "हर कलाकार, निर्देशक और फ़िल्मकार की ज़िम्मेदारी है कि बेवजह की नग्नता ना परोसी जाए. न्यूडिटी के पीछे मक़सद औरत को ऑब्जेक्ट की तरह पेश करना नहीं होना चाहिए."

नंदना के मुताबिक़ 'रंगरसिया' में नग्नता है, लेकिन उसे गरिमामय और सौंदर्यबोध के साथ पेश किया गया है.

इसमें नारी एक सशक्त किरदार के रूप में उभरकर सामने आती है.

मां-बाप से सलाह

इमेज कॉपीरइट RANGRASIYA

नंदना के पिता, नोबेल पुरस्कार विजेता प्रख्यात अर्थशास्त्री अमर्त्य सेन हैं.

वो कहती हैं, "मेरे लिए ये रोल करना आसान नहीं था. मैंने अपने माता-पिता से और निर्देशक केतन मेहता से लंबी चर्चा की. तब जाकर फ़िल्म के लिए हां कहा."

फ़िल्म साल 2005 में ही बन गई थी, लेकिन विवादित विषय होने की वजह से ये लंबे समय तक अटकी रही.

शादी

इमेज कॉपीरइट RANGRASIYA

साल 2013 में नंदना की शादी हो गई.

क्या वो शादी के बाद भी ऐसी बोल्ड फ़िल्म करने में सहज होतीं?

नंदना ने कहा, "मैं पहले कलाकार हूं. मैं शादीशुदा हूं या नहीं, ये मायने नहीं रखता."

नंदना ने बताया कि फ़िल्म को सेंसर बोर्ड ने बिना किसी कट के पास कर दिया है.

नंदना इससे पहले संजय लीला भंसाली की ब्लैक और अजय देवगन की टैंगो चार्ली में भी काम कर चुकी हैं.

(बीबीसी हिंदी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं)

संबंधित समाचार