मैं साजिद से माफ़ी क्यों माँगूं: सैफ़

साजिद ख़ान और सैफ़ अली ख़ान इमेज कॉपीरइट Vashu Bhagnani

सैफ़ अली ख़ान की आख़िरी फ़िल्म निर्देशक साजिद ख़ान की 'हमशकल्स' बुरी तरह फ़्लॉप हुई थी.

उसके बाद सैफ़ ने कहा कि 'हमशकल्स' उनकी ज़िंदगी की सबसे बड़ी ग़लती है.

हाल ही में सैफ़ ने अपनी पिछली फ़िल्म 'हमशकल्स' के निर्देशक को झप्पी दी और कहा कि वे दोनों दोस्त हैं.

मीडिया ने इस 'झप्पी' को सैफ़ की 'माफ़ी' के रूप में दर्शाया जिससे नवाब साहब को काफ़ी दुख पहुंचा.

सैफ़ ने कहा, "ये ख़बर जो आई है कि मैंने साजिद से माफ़ी मांगी वो गलत है. मैं साजिद से मिला ज़रूर था."

उन्होंने आगे कहा, "वह मेरे अच्छे दोस्त हैं, हम दोनों एक दूसरे से गले मिले और साजिद ने ही मुझसे कहा कि मैं मीडिया में कहूँ कि हमारी दोस्ती हो गई है. इसलिए मैंने मीडिया से कहा कि मैं साजिद का दोस्त बन गया हूं, लेकिन वो आर्टिकल जब पेपर में छपा तो मुझे बुरा लगा. मैं भला क्यों साजिद से माफ़ी मांगूगा?"

इमेज कॉपीरइट AFP

फ़िल्म की तमन्ना

संवाददाता सम्मलेन के दौरान सैफ़ ने एक फ़िल्म बनाने की तमन्ना ज़ाहिर की.

इमेज कॉपीरइट AFP

सैफ़ ने कहा, "मैं अपने पिता की ज़िंदगी पर फ़िल्म बनाना चाहता हूं लेकिन ऐसा करना बहुत मुश्किल है. 'मैरी कॉम' और 'मिल्खा सिंह' पर फ़िल्म बनाना आसान है लेकिन क्रिकेट पर फ़िल्म बनाना बहुत मुश्किल है. मुझे नहीं लगता कि कोई भी अभिनेता मेरे पिता का किरदार निभा सकता है."

उन्होंने कहा, "आप भाग सकते हैं, मुक्केबाजी कर सकते हैं पर मेरे पिता जैसा 'स्क्वेयर कट' कहां से मारेंगे? अगर मैंने अभी अपने पिता पर फ़िल्म बना भी दी तो उनके समकालीन खिलाड़ियों को बहुत बुरा लगेगा. फ़िल्म देखकर सब गालियां देंगे."

करीना

सैफ़ ने ये भी बताया कि वह अब फ़िल्मों में करीना के साथ काम नहीं कर रहे.

सैफ़ कहते है कि करीना और वह एक साथ घर पर रहते हैं. अगर फ़िल्में भी एक साथ करने लगे तो बोर हो जाएंगे.

सैफ़ की फ़िल्म 'हैप्पी एंडिंग' 21 नवंबर को रिलीज़ होगी जिसमें वह एक लेखक के किरदार में नज़र आएंगे.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार