न सलमान का सिक्का चला, न आमिर का जादू

दिया और बाती हम, स्टार प्लस इमेज कॉपीरइट Star Plus

शाम ढले, थके मांदे घर लौटे लोगों को तरोताज़ा करने में बुद्धू-बक्से की भूमिका को नकारना काफ़ी मुश्किल है.

चाहे 'तारक मेहता का उल्टा चश्मा' देखें या किसी को करोड़पति बनते देख ख़ुद ख़ुश हों. भारत की 70 प्रतिशत आबादी किसी न किसी माध्यम से टेलिविज़न से जुड़ी है.

लेकिन जितने दर्शक उतने ही चैनल और जितने चैनल उतने ही धारावाहिक.

ऐसे में किस धारावाहिक ने लोगों के दिलों को जीता यह तय होता है टीआरपी (टेलिविज़न रेटिंग प्वाइंट्स) से.

किसका रहा ये हफ़्ता?

धारावाहिकों की फ़हरिस्त में इस हफ़्ते टॉप पर मौजूद है स्टार प्लस का नंबर एक शो 'दिया और बाती हम.'

धारावाहिक की लीड एक्ट्रेस संध्या राठी का परिवार जिस प्लेन से सफ़र कर रहा है वह हाईजैक हो गया है.

क्या संध्या अपने परिवार को इस मुसीबत से निकाल पाएगी, यह प्लॉट दर्शकों का ध्यान अपनी तरफ़ खींचे हुए है.

इमेज कॉपीरइट Star Plus

दूसरे पायदान पर बालाजी टेलीफ़िल्म्स का धारावाहिक 'यह है मोहब्बतें' है. रमन और ईशिता के मासूम प्यार की कहानी किसी रोमांटिक फ़िल्म जैसी लग रही है.

रिएलिटी शोज़ का बादशाह

करन पटेल और दिव्यंका की ऑन स्क्रीन केमिस्ट्री लोगों को पसंद आ रही है.

तीसरे स्थान पर है धारावाहिक 'साथिया'. मोदी परिवार और उनके परिवार में घुस आई राधा के बीच की कशमकश दर्शकों के एक बड़े वर्ग को इस धारावाहिक से बांधे हुए है.

किंग ख़ान का जादू सिनेमाघरों में तो सिर चढ़कर बोलता ही है लेकिन इस बार ये जादू छोटे पर्दे पर भी छा गया.

रिएलिटी शोज़ की दौड़ में सबसे आगे रहा शाहरुख़ खान और 'हैप्पी न्यू इयर' की पूरी कास्ट से सजा ज़ी टीवी का डांस रिएलिटी शो 'दिल से नाचे इंडिया वाले'.

हनी की जगह हिमेश

इमेज कॉपीरइट KBC

वहीं रिएलिटी शोज़ में नंबर 2 की हॉट सीट पर रहा बिग बी अमिताभ बच्चन का 'कौन बनेगा करोड़पति'.

यह अमिताभ बच्चन का करिश्मा ही है जिससे शो की रैंकिंग अच्छी रही.

नंबर तीन पर रहा 'इंडियाज़ रॉ स्टार', इस धारावाहिक को पहले हनी सिंह जज किया करते थे लेकिन फिर ख़राब तबियत के चलते उन्हें बीच शो में से हटना पड़ा.

हनी सिंह की जगह ली हिमेश रेशमिया ने और इस बदलाव के बाद भी शो की पॉपुलैरिटी बरक़रार रही.

कहां है बिग बॉस?

इमेज कॉपीरइट AFP

टीआरपी की दौड़ में सलमान ख़ान के बिग बॉस की चर्चा न होने से आप थोड़े हैरान होंगे.

लेकिन इस बार 'बिग बॉस' को इसी शो के पिछले सालों की औसत रेटिंग भी हासिल नहीं हो पाई. शायद सलमान का जादू इस बार काम नहीं कर रहा.

वहीं आमिर ख़ान का 'सत्यमेव जयते' का तीसरा सीज़न चर्चा में तो रहा लेकिन टीआरपी चार्ट में नहीं.

यह कहना ग़लत नहीं होगा कि आमिर के शो के नाम बड़े और दर्शन छोटे रहे. हालांकि यूट्यूब पर इसे काफ़ी हिट्स मिले हैं.

अगली कड़ी

कुल मिला कर अगर देखें तो चैनल्स की दौड़ में सबसे आगे है स्टार प्लस और फिर दूसरे और तीसरे स्थान पर क्रमश: कलर्स और ज़ी टीवी.

इमेज कॉपीरइट red chillies

टीआरपी की अगली कड़ी में आपको बताएंगे कि कैसे 'सीआईडी' टीआरपी लिस्ट में सबसे नीचे होते हुए भी क्यों जारी है 17 सालों से?

सीआईडी के एसीपी प्रद्युमन के शब्दों में "कुछ तो गड़बड़ है ?" वो गड़बड़ क्या है पता लगाएंगे अगले हफ़्ते.

(सभी आंकड़े टेलिविज़न रेटिंग एजेंसी TAM के आंकड़ों पर आधारित है.)

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार