'रोडीज़' से क्यों निकले रघु-राजीव?

रघु और राजीव इमेज कॉपीरइट Infinite Expressions Pvt ltd

'हमनें रोडीज़ अपनी मर्जी से छोड़ा है. हमें अपनी कंपनी 'मोनोज़ाइगोटिक' को और भी बुलंदियों पर पहुंचाना है.'

ऐसा कहना है एमटीवी के प्रसिद्ध शो 'रोडीज़' के जज रहे रघु राम और राजीव लक्ष्मण का.

साल 2003 से शुरु हुआ एम टी वी का शो 'रोडीज़' हर साल चर्चा का विषय बना रहता है और इस साल 'रोडीज़' चर्चा में है शो के जज रघु और राजीव को लेकर.

अगस्त के महीने में रघु और राजीव ने अपनी नई कंपनी ‘मोनोज़ाइगोटिक’ के बारे में अपने सभी फ़ैन्स को बताया.

पर नवंबर में अचानक ये विवाद फ़ैल गया कि उन्हें एमटीवी से निकाला गया है.

मर्जी से छोड़ा

इमेज कॉपीरइट Infinite Expressions Pvt ltd

रघु और राजीव ने 'रोडीज़' के साथ फ़रवरी में ही नाता तोड़ दिया था. पर उन्होंने इस शो से नाता तोड़ा क्यों?

इमेज कॉपीरइट Infinite Expressions Pvt ltd

रघु ने कहा, "हमने 'रोडीज़' शो ख़ुद छोड़ा और राजीव ने तो 'रोडीज़ 9' से ही रोडीज़ छोड़ दिया था.

उन्होंने आगे कहा, "मैंने रोडीज़ खुद अपनी मर्जी से छोड़ा क्योंकि रोडीज़ के 10 सीज़न करने के बाद मैं ख़ुद कुछ नया करना चाहता था. यहां तक रोडीज़ ख़ुद ऐसे मुकाम पर पहुंच गया है जहां उसमें कुछ नया लाने की ज़रुरत है और जब मैंने एमटीवी के सामने अपना शो छोड़ने और कुछ नया करने का प्रस्ताव रखा तो वो ख़ुद इस बात से सहमत हो गए."

विवाद

एमटीवी और रघु के बीच ये नोक झोक पहले भी हुई थी जहां रघु ने रोडीज शो रोडीज 6 के बाद छोड़ दिया था लेकिन एमटीवी ने उन्हें वापस बुला लिया था.

इस बार अगर एम टी वी ने रघु को वापस बुलाया तो क्या वो जाएंगे?

रघु कहते हैं, “मैं एक काम में बंध कर नहीं रहना चाहता. अभी मैं 40 साल का भी नहीं हुआ हूं और हम अभी कई और नए शो करना चाहता हूं. हमारे पास कई सारे नए विचार हैं और मुझे बहुत शौक है कि मैं अपने नए विचारों को आगे बढ़ाऊं और ‘रोडीज़’ जैसे कई फ़ेमस शोज़ अपनी कंपनी मोनोज़ाइगोटिक के तहत बनाऊं."

इमेज कॉपीरइट Infinite Expressions Pvt ltd

रघु और राजीव ने ‘रोडीज़’ के दर्शकों से अपील की है कि वो जितना प्यार रघु और राजीव को दिया था, उतना शो को देते रहें.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार