स्टार बनने की क़ाबिलियत नहीं: मनोज बाजपेई

'तेवर' इमेज कॉपीरइट TEVAR

मनोज बाजपेई अपने आपको एक अच्छा कलाकार तो मानते हैं लेकिन क़बूल करते हैं कि वो स्टार नहीं हैं.

बीबीसी से ख़ास बात करते हुए मनोज ने कहा, "एक स्टार के अंदर विशेष किस्म की ख़ासियत होती है. मुझमें वो क़ाबिलियत नहीं."

अगले साल की शुरुआत में मनोज बाजपेई दिखेंगे अर्जुन कपूर और सोनाक्षी सिन्हा के साथ फ़िल्म 'तेवर' में.

मनोज अपनी एक और कमी की तरफ़ इशारा करते हैं, "मैं खालिस मसाला फ़िल्मों की तरह के रोमांटिक रोल नहीं कर सकता."

'दबाव में काम नहीं'

इमेज कॉपीरइट HOTURE

साल 1998 में आई 'सत्या' में भीखू म्हात्रे का किरदार निभाकर मनोज ने ख़ासी लोकप्रियता हासिल की.

लेकिन मनोज ने उसके बाद भी बड़ी गिनी चुनी फ़िल्में कीं.

वो कहते हैं, "ऐसे रोल जो मैं कर सकता हूं वो आने भी तो चाहिए. मुझे जो रोल पसंद आते थे वो मैं झट से स्वीकार कर लेता."

इमेज कॉपीरइट TEVAR

मनोज बाजपेई ये भी मानते हैं कि अच्छे रोल के लालच में उन्होंने कई बार बहुत कम पैसों में फ़िल्में कर लीं.

उन्होंने बताया, "अब मैं ऐसा नहीं करूंगा. मैंने तय किया है कि जितने पैसों का हक़दार हूं उससे कम में कोई फ़िल्म नहीं करूंगा. किसी दबाव में काम नहीं करूंगा."

'फ़िल्मी पार्टी पसंद नहीं'

मनोज बाजपेई को फ़िल्मी पार्टियों में जाना पसंद नहीं है.

वो रात को जल्दी सोना और परिवार के साथ समय बिताना ज़्यादा पसंद करते हैं.

इमेज कॉपीरइट PRAKASH JHA PRODUCTION

मनोज अपने करियर के पड़ाव से बड़े संतुष्ट हैं.

वो जल्द ही एक फ़िल्म की शूटिंग करेंगे जिसमें वो 60 साल के एक समलैंगिक प्रोफ़ेसर का किरदार निभाएंगे.

(बीबीसी हिंदी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार