फ़िल्म रिव्यू: एक्शन जैक्सन

एक्शन जैक्सन इमेज कॉपीरइट EROS INTERNATIONAL

फ़िल्म: एक्शन जैक्सन

निर्देशक: प्रभुदेवा

कलाकार: अजय देवगन, सोनाक्षी सिन्हा

रेटिंग: *

'एक्शन जैक्सन' नाम सुनकर आपने अंदाज़ा लगाया होगा कि इसमें भरपूर एक्शन और स्टायलिश डांस सीक्वेंस वाले गाने होंगे. और ऐसा है भी.

लेकिन आपको किसी ने फ़िल्म देखने से पहले चेतावनी नहीं दी होगी कि आपको आगे क्या झेलना पड़ सकता है. चलिए मैं आपको वह चेतावनी देने की कोशिश करता हूं.

पहली बात: इस फ़िल्म के लगभग हर सीन में, जी हां, हर सीन में अजय देवगन साहब मौजूद हैं. मेरे ख़्याल से यह भी एक किस्म का फ़िल्मी रिकॉर्ड ही होगा.

इमेज कॉपीरइट Eros International

फ़िल्म में अजय देवगन को औरतों की बेपहनाह मोहब्बत मिलती है. दूसरे लोग और ख़ुद अजय देवगन ख़ुद को बड़े लाड़ से एजे बुलाते हैं.

फ़िल्म का खलनायक तक उनसे प्यार करता है. यह विलेन गंजा है और सोवियत संघ के पूर्व राष्ट्रपति मिखाइल गोर्बाचोव की तरह उसके सर पर एक जन्मजात टैटू है.

कहानी

इमेज कॉपीरइट EROS INTERNATIONAL

'किल बिल' की तर्ज पर नंगे बदन तलवार भांजते अजय देवगन को देख खलनायक की बहन उससे इश्क़ कर बैठती है.

वो बात-बात पर उत्तेजित होकर नहाने लग जाती है और पतली-पतली सिगरेट फूंकती है. जब स्वीमिंग पूल में वह एजे से मिलती है तो वह उसे नज़रअंदाज़ कर देता है.

पूरी फ़िल्म में वह आधे कपड़े पहनकर सिर्फ़ एजे (अजय देवगन) के बारे में सोचती रहती है.

वह उसके लिए किसी का ख़ून भी कर सकती है.

इमेज कॉपीरइट EROS INTERNATIONAL

पूरी फ़िल्म में वह बस बुदबुदाती रहती है, "मुझे एजे चाहिए. मुझे एजे चाहिए."

मुझे उसके लिए बड़ा बुरा लगता है लेकिन मुझे अपने आप पर ज़्यादा तरस आता है.

इंटरवल के बाद वाले हिस्से में फ़िल्म का यही प्लॉट है.

बेतुकी फ़िल्म

इमेज कॉपीरइट EROS INTERNATIONAL

इंटरवल से पहले एक दूसरी लड़की (सोनाक्षी सिन्हा) अजय देवगन के जिस्म को नहीं बल्कि गुप्तांग को देखने की कोशिश करती रहती है.

क्योंकि ऐसा करने से उसकी किस्मत चमक जाती है. उसे नौकरी में प्रमोशन मिल जाता है. उसे डिस्काउंट कूपन मिल जाते हैं.

इमेज कॉपीरइट EROS INTERNATIONAL

और इसी कारण से वह अपनी सहेलियों के साथ इस नॉटी दर्शन के लिए एजे (अजय देवगन) का पीछा करती रहती है.

मैं मज़ाक नहीं कर रहा हूं. वाकई फ़िल्म का यही प्लॉट है.

ऐसी फ़िल्में देखकर लगता है कि एक फ़िल्म समीक्षक का काम कितना मुश्किल होता है.

(बीबीसी हिंदी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार