फ़िल्म सेंसर बोर्ड को समझ नहीं आई: राम रहीम

बाबा राम रहीम इमेज कॉपीरइट dera sacha sauda

विवादित फ़िल्म 'मैसेंजर ऑफ़ गॉड' की रिलीज़ को लेकर हुए बवाल के बाद इस फ़िल्म को आखिरकार प्रदर्शन का सर्टिफ़िकेट मिला.

अपनी फ़िल्म पर चलते विवाद को लेकर गुरमीत राम रहीम ने सोमवार को मुंबई में एक प्रेस कांफ़्रेंस का आयोजन किया.

इमेज कॉपीरइट haqeeqat entertainment

वो बोले, "दरअसल मेरी फ़िल्म सेंसर बोर्ड को समझ नहीं आई और वो उसकी मुख़्य भावना को नहीं समझे वर्ना फ़िल्म ट्राइब्यूनल ने सिर्फ़ एक वाक्य को म्यूट कर फ़िल्म को रिलीज़ करने का आदेश क्यों दिया होता?"

इस फ़िल्म पर पंजाब में लगे बैन पर बाबा बोले, "जब दूसरे राज्यों में ये फ़िल्म दिखाई जाएगी और पंजाब वालों को पता चलेगा कि इसमें कुछ भी विवादित नहीं है तो वो भी इस फ़िल्म को हरी झंडी दिखा देंगे."

गुरमीत राम रहीम ने ये भी बताया कि फ़िल्म 27 तारीख के बाद कभी भी रिलीज़ हो सकती है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार