ये बना देते हैं पूरे का पूरा नक़ली शहर

नितिन देसाई का डिज़ाइन किया हुआ सेट इमेज कॉपीरइट NITIN DESAI

बॉलीवुड के मशहूर सेट डिज़ाइनर नितिन देसाई ने कई फ़िल्मों के लिए भव्य सेट तैयार किए हैं.

मुंबई से तक़रीबन 60 किलोमीटर दूर करजत में नितिन देसाई का अपना स्टूडियो है.

साल 2010 में आई फ़िल्म 'वन्स अपॉन अ टाइम इन मुंबई' के लिए नितिन देसाई ने 70 के दशक के मुंबई शहर का सेट डिज़ाइन किया.

इमेज कॉपीरइट NITIN DESAI

इसके लिए उन्होंने छोटी-छोटी झोपड़ियो के अलावा, दुकान और पारसी रेस्टारेंट तक का सेट बनाया.

दर्शकों को अहसास भी नहीं हो पाया कि पूरी फ़िल्म आउटडोर लोकेशंस पर नहीं बल्कि सेट पर शूट की गई.

इमेज कॉपीरइट NITIN DESAI

'जोधा अकबर' का सेट

इसी तरह साल 2007 में आई निर्देशक मधुर भंडारकर की फ़िल्म 'ट्रैफ़िक सिग्नल' में भी आपने मुंबई की जो व्यस्त सड़कें और ट्रैफ़िक देखा वो असल नहीं बल्कि सेट था.

इस फ़िल्म की 80 फ़ीसदी शूटिंग करजत स्थिति इन सेट्स पर हुई.

साल 2008 में आई ऋतिक रोशन और ऐश्वर्या राय की फ़िल्म 'जोधा अकबर' का सेट उस वक़्त के सबसे बड़े और सबसे महंगे सेट में से था.

निर्देशक आशुतोष गोवरीकर ने नितिन देसाई से ऐसा सेट बनवाया जो आगरा फ़ोर्ट जैसा हो.

नितिन देसाई अब तक 178 फ़िल्मों के सेट डिज़ाइन कर चुके हैं. नौ साल पहले फ़िल्म 'जोधा अकबर' के लिए उन्होंने जो सेट बनाया था वो आज भी मौजूद है जहां टीवी सीरियल 'जोधा अकबर' की शूटिंग चल रही है.

चार नेशनल अवॉर्ड

नितिन कहते हैं, "हमने इस सेट को साढ़े छह महीने में तैयार किया. हमारी 12 लोगों की टीम आगरा फ़ोर्ट गई और वहां हमने उसके डिज़ाइन की गहन स्टडी की. तब यहां आकर उसका ढांचा तैयार किया."

इमेज कॉपीरइट NITIN DESAI

नितिन चंद्रकांत देसाई का ये एनडी स्टूडियो 42 एकड़ में फैला है. इसमें सबसे पहले आमिर ख़ान की फ़िल्म 'मंगल पांडेय' की शूटिंग हुई थी.

वैसे नितिन देसाई को असल पहचान मिली थी 1993 में आई विधु विनोद चोपड़ा की फ़िल्म '1942 अ लव स्टोरी' का सेट डिज़ाइन करने के लिए.

नितिन देसाई को आर्ट डायरेक्टर के तौर पर चार नेशनल अवॉर्ड्स मिल चुके हैं.

उन्हें देवदास, लगान, हम दिल दे चुके सनम और डॉक्टर बाबा साहेब अंबेडकर के लिए ये सम्मान मिले.

इमेज कॉपीरइट NITIN DESAI

सितारों के बंगले

नितिन देसाई के एनडी स्टूडियो के निर्माण से पहले वो फ़िल्म सिटी स्टूडियो में सेट बनाया करते थे लेकिन एक बार फ़िल्म ख़त्म होने के बाद उन्हें सेट तुड़वाना पड़ता था जो उन्हें पसंद नहीं था. इसलिए उन्होंने करजत में ज़मीन ख़रीदकर अपना स्टूडियो ही बना लिया. यहां वो सेट को तुड़वाते नहीं बल्कि थोड़ा बदलाव दे देते हैं.

इमेज कॉपीरइट NITIN DESAI

कई बार बड़े फ़िल्मी सितारों को शूटिंग के सिलसिले में एनडी स्टूडियो में कई दिनों तक रहना पड़ता है. इस वजह से उनके रहने के लिए यहां अस्थाई बंगले भी बनाए गए हैं.

इस समय सलमान ख़ान यहां रुके हुए हैं और अपनी फ़िल्म 'प्रेम रतन धन पायो' की शूटिंग कर रहे हैं.

यहां कई जूनियर आर्टिस्ट के लिए भी घर बनाए गए हैं.

(बीबीसी हिंदी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार