'दिया और बाती' को किसने दी चुनौती!

दिया और बाती की संध्या, दीपिका सिंह इमेज कॉपीरइट Srabanti Chakrabarti

इस हफ़्ते की टीआरपी रेटिंग से भी कोई ख़ास उम्मीद नहीं थी और लग रहा था कि वही 'दिया और बाती हम' और 'कॉमेडी नाइट्स विद कपिल' की बात होगी.

लेकिन इस बार टीआरपी के मैदान में दिया और बाती की ज़मीन थोड़ी हिल गई है.

कमज़ोर कहानी का प्रभाव और लीड पेयर संध्या और सूरज में अनबन का असर 'दिया और बाती हम' की रेटिंग पर पड़ने लगा है.

एक लंबे अंतराल से कभी पहले और कभी दूसरे नंबर पर चल रहा ये धारावाहिक इस हफ़्ते की टीआरपी रेटिंग में तीसरे पायदान पर लुढ़क गया है.

कैसे मंद हुई दिये की बाती

इमेज कॉपीरइट Srabanti Chakrabarti

इस धारावाहिक की कमी यह है कि इसकी मूल भावना कहीं खो गई है और कहानी आगे कोई रोचक मोड़ नहीं ले पा रही है.

अगर ये शो इसी ढर्रे पर आगे बढ़ा तो आने वाले दिनों में आप इसे टीआरपी टेबल में और नीचे देखेंगे.

पहले स्थान पर वापस आया है धारावाहिक 'साथिया' जिसमें टाइम लीप के बाद अब कहानी कई साल आगे बढ़ी है और नई कहानी, नए चेहरे दर्शकों को लुभा रहे हैं.

दूसरे स्थान पर आ गया है 'कुमकुम भाग्य.'

हाल रिएलिटी शोज़ का

इमेज कॉपीरइट Colors

रिएलिटी शोज़ की दौड़ में चौंकाने वाली बात थी 'कॉमेडी नाइट्स' का टीआरपी में शीर्ष तीन स्थान से नदारद रहना.

'कॉमेडी नाइट्स' की जगह लेकर पहले स्थान पर रहा 'ख़तरों के खिलाड़ी'.

वहीं दूसरे स्थान पर रहा 'सारेगामापा - लिटिल चैंप्स' जिसका ये आख़िरी हफ़्ता है और इस आख़िरी हफ़्ते में ग्रैंड फ़िनाले का इंतज़ार सभी को रहेगा.

इमेज कॉपीरइट colors

'फ़राह की दावत' और सिलेब दोस्तों के साथ उनका खाना बनाना लोगों को पसंद आ रहा है. ये शो इस हफ़्ते तीसरे पायदान पर आ गया है.

नए धारावाहिकों का हल्ला बोल

टीआरपी टेबल में जगह नहीं मिली इसका मतलब ये बिल्कुल नहीं की नए चैनल एंड टीवी के शोज़ अच्छा नहीं कर रहे हैं.

इस चैनल के धारावाहिक 'गंगा' और 'बेगूसराय' आम दर्शकों में लोकप्रिय हो रहे हैं लेकिन अभी इन्हें इतना वक़्त नहीं हुआ कि टीआरपी टेबल में जगह मिले.

इमेज कॉपीरइट AND TV

नए धारावाहिकों में सोनी टीवी पर शुरू होने वाले एक धारावाहिक 'दिल की बातें', जिसमें राम कपूर नज़र आने वाले हैं, शुरू होने से पहले ही काफ़ी चर्चा बटोर चुका है.

इस धारावाहिक के प्रोमो काफ़ी अच्छे बन पड़े हैं और जब अगले हफ़्ते ये धारावाहिक शुरू होगा तो इसके ख़ासा लोकप्रिय होने के आसार हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार