जो रहे खेलों में हिट, फ़िल्मो में फ्लॉप

इमेज कॉपीरइट Reuters

बॉलीवुड की चकाचौंध हर किसी को अपनी तरफ आकर्षित करती है तो भला भारतीय खिलाड़ी इसमें कैसे पीछे रहते.

बीबीसी नज़र डाल रह है कुछ ऐसे खिलाड़ियों पर जिन्होंने खेल के मैदान पर हिट होने के बाद रुपहले पर्दे पर अपनी किस्मत आजमाई लेकिन उन्हें सफलता नहीं मिली.

पढ़ें: खिलाड़ी जो बनना चाहते हैं 'हीरो'

1. लिएंडर पेस

इमेज कॉपीरइट Neelam Gupta PR

पद्म श्री टेनिस खिलाड़ी लिएंडर पेस ने 2013 में 'राजधानी एक्सप्रेस' नामक फ़िल्म में बतौर लीड अभिनेता काम किया.

फ़िल्म न दर्शकों को पसंद आई, न समीक्षकों को. इस फ़िल्म की विफलता के बाद लिएंडर पेस ने फ़िल्मी करियर से दूरी ही बरती.

2. विजेंदर सिंह

भारत को अंतराष्ट्रीय स्तर पर बॉक्सिंग में सम्मान दिलाने वाले बॉक्सर विजेंद्र सिंह ने अक्षय कुमार के प्रोडक्शन हाउस की 2014 में आई फ़िल्म फ़गली में काम किया.

बॉक्सिंग रिंग में प्रतिद्वंद्वियों को बेहाल कर देने वाला विजेंदर की ये फ़िल्म बॉक्स ऑफ़िस पर औंधे मुँह गिरी.

3. प्रवीण कुमार

प्रवीण कुमार ने 1960-1970 के दशक में भारत के लिए विश्व स्तर पर डिस्कस थ्रो में गोल्ड मेडल जीता था.

1981 की फ़िल्म रक्षा में विलन के राइट हैंड के रूप मे करियर की शुरुआत करने वाले प्रवीण की फ़िल्मों दुनिया में कोई ख़ास पहचान नहीं बन पाई.

अभिनेता के तौर पर उन्हें सफलता मिली बीआर चोपड़ा के टीवी सीरियल महाभारत से जिसमें उन्होंने 'भीम' की भूमिका की थी. लोग आज भी उन्हें भीम के रूप में याद ही करते हैं.

4. सुनील गावस्कर

इमेज कॉपीरइट AFP

टेस्ट मैच इतिहास के भारत के सबसे बेहतरीन ओपनिंग बल्लेबाज़ माने जाने वाले सुनील गावस्कर ने रिटायरमेंट के बाद सावली प्रेमाची नाम की मराठी फ़िल्म में काम किया. इस फ़िल्म को कुछ खास सफलता नहीं मिली.

उसके बाद सुनील ने नसीरुद्दीन शाह के साथ हिन्दी फ़िल्म 'मालामाल' में भी काम किया. लेकिन वो क्रिकेट वाली सफलता फिल्मों में नहीं दोहरा सके.

5. अजय जडेजा

इमेज कॉपीरइट PTI

क्रिकेटर अजय जडेजा ने भी बॉलीवुड में अपना हाथ आज़माया.

उनकी फ़िल्म का नाम था 'खेल' जिसमें उनके साथ थे सुनील शेट्टी और सनी देओल. फ़िल्म बॉक्स ऑफ़िस पर फ़्लॉप रही.

इस फ़िल्म के बाद अजय ने बॉलीवुड की तरफ मुड़कर भी नहीं देखा.

6. विनोद काबंली

इमेज कॉपीरइट hoture images
Image caption विवेक ओबराय और विनोद कांबली(दाएँ).

टेस्ट क्रिकेट और वनडे दोनों में अपनी ख़ास बल्लेबाजी शैली के लिए चर्चित खब्बू बल्लेबाज विनोद कांबली आजकल टीवी पर क्रिकेट कमेंट्री करते नज़र आते हैं.

विनोद कांबली ने अभिनेता के रूप में दो फ़िल्में 'अनर्थ' और 'पल पल दिल के साथ' कीं. दोनों ही फ़िल्में बॉक्स ऑफिस पर पिट गईं.

7. कपिल देव

इमेज कॉपीरइट Getty Allsport
Image caption कपिल देव 1983 के क्रिकेट विश्व कप के साथ.

1983 में भारत को पहला क्रिकेट वर्ल्ड कप जिताने वाली क्रिकेट टीम के कप्तान कपिल देव को भारत के सर्वकालिक महान गेंदबाज़ों में गिने जाते हैं.

क्रिकेट से संन्यास लेने के बाद कपिल ने कुछ फ़िल्मों, 'स्टंप्ड', 'इक़बाल', 'चैन खुली की मैन खुली' इत्यादि में छोटे-मोटे किरदार निभाए. लेकिन उन्होंने अभिनय को करियर नहीं बनाया.

8. संदीप पाटिल

इमेज कॉपीरइट PTI

भारतीय क्रिकेट टीम के भूतपूर्व बल्लेबाज़ और गेंदबाज संदीप पाटिल भी बॉलीवुड फ़िल्म में असफलता का स्वाद चख चुके हैं.

1985 में 'कभी अजनबी थे' नाम की फ़िल्म में संदीप पाटिल पूनम डिल्लों के साथ बड़े पर्दे पर रोमांस करते दिखे पर दर्शको को संदीप का ये रूप नहीं पसंद आया.

उसके बाद संदीप पाटिल ने कोई फ़िल्म नहीं की, लेकिन उनके बेटे चिराग पाटिल छोटे पर्दे पर अभिनय कर रहे हैं.

9. सलिल अंकोला

90 के दशक के भारतीय गेंदबाज सलिल अंकोला को जब 10 साल के क्रिकेट करियर में बड़ी कामयाबी नहीं मिली तो उन्होंने क्रिकेट से संन्यास लेकर बॉलीवुड में क़दम रखा फ़िल्म कुरुक्षेत्र से.

'पता' और 'चुरा लिया है तुमने' जैसी फ़िल्मों की विफलता के बाद सलिल ने अपना रुख छोटे पर्दे यानी टीवी इंडस्ट्री की तरफ कर लिया.

10. मोहसिन खान

इमेज कॉपीरइट AP

पाकिस्तान के सफल बल्लेबाज़ मोहसिन खान ने 1983 में बॉलीवुड अभिनेत्री रीना रॉय से शादी रचाई.

मोहसिन ख़ान ने बंटवारा, साथी, मैडम एक्स, गुनाहगार कौन जैसी फ़िल्में की लेकिन वो अपनी जगह नहीं बना सके.

रीना रॉय से तलाक के बाद मोहसिन ख़ान पाकिस्तान लौट गए और बॉलीवुड को भी अलविदा कह दिया.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार