इस फ़िल्म में की सबसे अधिक मेहनत: नवाज़ुद्दीन

इमेज कॉपीरइट raindrop

पहाड़ को काटकर रास्ता बनाने वाले दशरथ मांझी की कहानी जल्द ही पर्दे पर दिखने वाली है और उनका किरदार निभा रहे हैं नवाजुद्दीन सिद्दिक़ी.

फिल्म का नाम है ‘मांझी द माउंटेन मैन' और इसे केतन मेहता ने निर्देशित किया है.

21 अगस्त को रिलीज़ होने वाली इस फिल्म को नवाज़ुद्दीन अपने दिल के बहुत क़रीब बताते हैं.

बीबीसी से बातचीत में उन्होंने कहा, "अभी तक मैंने ज‍ितनी फ़ि‍ल्‍में की हैं, उनमें सबसे ज्‍़यादा मेहनत इसमें की है. मैं इसमें ऐसे पत‍ि की भूम‍िका निभा रहा हूं, जो अपनी पत्‍नी की ख़ात‍िर छेनी हथौड़ी के सहारे पहाड़ को काटकर रास्ता बना देता है.”

इमेज कॉपीरइट raindrop

फिल्म में वो बिहार के दशरथ मांझी का किरदार निभा रहे हैं जिनकी पत्‍नी की मौत गांव में ख़राब चिक‍ित्‍सा व्‍यवस्‍था के कारण हो गई थी क्योंकि उन्हें डॉक्टर तक नहीं ले जाया जा सका.

इसके बाद उन्होंने दिन-रात एक करके पहाड़ को काटकर रास्‍ता बनाया.

बायोपिक

इमेज कॉपीरइट raindrop

इस क‍िरदार में जान डालने के बारे में नवाज़ुद्दीन बताते हैं, "अपने क‍िरदार को समझने के लिए मैंने गांव की ज़मीनी ज़‍िंदगी जी.”

नवाज़ुद्दीन फ़िल्म के निर्देशक केतन मेहता से भी ख़ासे प्रभावित हैं जिन्होंने इससे पहले ‘मंगल पांडेय’ और ‘सरदार’ जैसी बायोप‍िक बनाई है.

नवाज़ कहते हैं, “केतन ने अपनी दोनों बायोपिक के ल‍िए काफ़ी तारीफें बटोरी हैं. इस फ़ि‍ल्‍म में उन्‍होंने बहुत ज्‍़यादा मेहनत की है. और इस फ़िल्‍म पर उन्‍हें काफ़ी भरोसा है.”

दशरथ मांझी

इमेज कॉपीरइट raindrop

दशरथ मांझी का संबंध बिहार के गया जिले के गहलौर गांव से था.

उन्होंने लगभग 22 वर्ष की कड़ी मेहनत के बाद अतरी और वजीरगंज के बीच पहाड़ काटकर रास्ता बनाया था, जिससे अतरी और वजीरगंज के बीच की दूरी काफ़ी कम हो गई.

अपने इस कारनामे से देश-व‍िदेश में मशहूर दशरथ मांझी का निधन 17 अगस्त 2007 को हुआ.

इस फ़िल्म की 85 फीसदी शूटिंग गेहलौर और आस पास के क्षेत्रों में हुई है. बाक़ी हिस्‍सा बनारस और दिल्ली में फिल्माया गया हैं.

इसमें नवाज़ुद्दीन की पत्‍नी का क‍िरदार राध‍िका आप्‍टे न‍िभा रही हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार