'प्रेम रतन...' पर भी चली सेंसर की कैंची

'मैंने प्यार किया', 'हम आपके हैं कौन' और 'हम साथ-साथ हैं' जैसी फ़िल्में बनाने वाले निर्देशक सूरज बड़जात्या की अगली फ़िल्म 'प्रेम रतन धन पायो' पर चली सेंसर बोर्ड की कैंची.

मुंबई के अंग्रेज़ी अख़बार 'मिड डे' के अनुसार सेंसर बोर्ड कमिटी ने निर्देशक सूरज बड़जात्या की सलमान खान अभिनीत फ़िल्म में से कुछ सीन्स हटाने के आदेश दिये हैं.

फ़िल्म से जुड़े सूत्रों ने अंग्रेज़ी अख़बार को बताया, "सेंसर बोर्ड ने फ़िल्म के एक दृश्य में इस्तेमाल किए गए शब्द 'रखैल' पर आपत्ति जताई."

सूत्र ने आगे बताया, "इस शब्द के अलावा भी सेंसर बोर्ड ने और दो दृश्यों में बदलाव करने को कहा है."

सूरज बड़जात्या जो पारिवारिक फ़िल्में बनाने के लिए जाने जाते हैं उनके लिए यह ख़बर एक झटके की तरह आई.

फ़िल्म निर्देशक के एक क़रीबी ने बताया, "फ़िल्म में ऐसा कुछ भी आपत्ती जनक नहीं हैं जिसे देख किसी की भावनाओं को ठेस पहुंचे."

खबरों के अनुसार सेंसर ने जिन अन्य दृश्यों पर आपत्ती जताई हैं उनमें से एक राम लीला का दृश्य हैं जिसमें उस सीन के साथ बॉलीवुड के गीत बज रहें हैं.

सूत्रों के अनुसार, "सेंसर बोर्ड को राम लीला के साथ फ़िल्म के गाने को बजाना उचित नहीं लगा, वहीं दूसरे दृश्य में जहा एक आदमी को फ़ांसी दी जा रही हैं, सेंसर चाहता है कि वहां दूर से फ़िल्माये गये दृश्य का इस्तेमाल हो."

सेंसर बोर्ड की सदस्य नंदीनी सर्देसाई का कहना हैं, "हर फ़िल्म को सेंसर से पारित होने के लिए एक प्रणाली से गुज़रना पड़ता हैं,और अगर फ़िल्म निर्माता उससे संतुष्ट नहीं होते तो वे पुनरीक्षण कमिटी को संपर्क कर सकते हैं."

सलमान ख़ान और सोनम कपूर अभिनीत फ़िल्म 'प्रेम रतन धन पायो' 12 नवंबर को रिलीज़ हो रही हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार