सचिन और अमिताभ को दिया 'कचरे का तोहफ़ा'

इमेज कॉपीरइट Madhu pal

पेशे से मेकैनिकल इंजीनियर वेंकटरमन अय्यर अंतरराष्ट्रीय टेनिस कोच रह चुके हैं, लेकिन उनकी पहचान 'कूड़े के जादूगर' के रूप में होती है.

74 वर्षीय वेंकटरमन अय्यर को साल 2004 में लिम्का बुक ऑफ़ वर्ल्ड रिकॉर्ड ने 'वेस्ट विज़ार्ड' यानि 'कूड़े के जादूगर' का ख़िताब दिया.

इमेज कॉपीरइट madhu pal

प्लास्टिक की जिन चीज़ों को आमतौर पर इस्तेमाल के बाद फेंक दिया जाता है वेंकटरमन उन वस्तुओं को वापस इस्तेमाल करने लायक बनाते हैं.

20 साल पहले पर्यावरण को बचाने के इरादे से शुरू की गई वेंकट की इस कोशिश का गवाह आज उनका एक 'रीसाइकिल संग्रहालय' है.

इमेज कॉपीरइट Madhu pal

वेंकटरमन कहते हैं, ''पहले लोग बाज़ार जाते समय कपड़े या जूट के थैले ले जाते थे और इन दिनों प्लास्टिक की थैलियों में सामान भरकर घर आ जाते हैं, ये जानते हुए भी कि प्लास्टिक कभी नष्ट नहीं होता."

इमेज कॉपीरइट madhu pal

वो आगे कहते हैं, "पर्यावरण के लिए प्लास्टिक उत्पादन को कम करना और रोज़मर्रा में इसके कम से कम प्रयोग के हमारे प्रयास पर्याप्त नहीं थे, ऐसे में प्लास्टिक की समस्या से निबटने के लिए मैंने यह काम शुरू किया."

अपने सफ़र के बारे में वेंकट कहते हैं, ''शुरुआत में मैंने तेल के बड़े-बड़े खाली डिब्बों से गणपति बनाया. उसके बाद टेबल, कुर्सी, फूलदान, पैन स्टैंड, फूल, टोपियां, बच्चों के लिए हवाई जहाज़ आदि भी बनाए.''

इमेज कॉपीरइट Madhu pal

वेंकटरमन सूखे कचरे से सजावटी सामान बना लेते हैं और गीले कचरे यानी बची सब्ज़ियों आदि से खाद बना लेते हैं और इसका इस्तेमाल बागवानी में करते हैं.

इस 'कूड़े के जादूगर' के प्रयास से सिर्फ़ आम आदमी ही नहीं, बल्कि क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर भी बहुत प्रभावित हैं.

सचिन से अपनी मुलाक़ात के बारे में वेंकटरमन कहते हैं, ''कुछ साल पहले मेरी मुलाक़ात सचिन से हुई थी, तब मैंने उन्हें वर्ल्ड कप बनाकर दिया था, जिसे देख सचिन बेहद खुश हुए थे.''

इमेज कॉपीरइट madhu pal

साल 2009 में जब अमिताभ बच्चन बीमारी के चलते अस्पताल में भर्ती थे तब वेंकट ने प्लास्टिक के बोतल से गणपति बना कर उन्हें दिया था.

वो अमिताभ की चिट्ठी भी दिखाते हैं जिसका सार कुछ यूं है, "आपका दिया तोहफ़ा मिला, इसका बहुत-बहुत शुक्रिया. आप इस तरह की कोशिश आगे भी करते रहें आपको देखकर औरों को भी प्रेरणा मिलेगी."

इमेज कॉपीरइट madhu pal

सचिन तेंदुलकर, अमिताभ बच्चन के अलावा लिएंडर पेस और आमिर ख़ान को भी वेंकट इस तरह के उपहार दे चुके हैं और इस रीसाइक्लिंग के इस काम को ताउम्र जारी रखना चाहते हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार