टाइगर को फ़िल्मों की जल्दी नहीं है

साल 2014 में आई फ़िल्म ‘हीरोपंती’ से अपने करियर की शुरुआत करने वाले टाइगर श्रॉफ़ को फ़िल्में करने की जल्दी नहीं है.

अपने एक्शन और डांस से दर्शको के दिल में ख़ास जगह बनाने वाले टाइगर की दूसरी फ़िल्म आने में दो साल का समय लगा.

इस पर सफ़ाई देते हुए टाइगर ने कहा, "मैं जल्दबाज़ी में नहीं हूं. मुझे ख़ुशी है कि लोगों ने मुझे स्वीकारा और उन्हें मुझसे उम्मीदें हैं."

टाइगर आगे कहते हैं कि दूसरी फ़िल्म के लिए वक़्त लिया, क्यूंकि दूसरी फ़िल्म पहली फ़िल्म से ज़्यादा अहम होती है.

फ़िल्म ‘बाग़ी’ के लिए टाइगर ने मार्शल आर्ट की एक अलग विधा कलरीपयट्टू का प्रशिक्षण लिया है. कलरीपयट्टू को केरल का मार्शल आर्ट कहा जाता है.

फ़िल्म के एक एक्शन सीन के दौरान टाइगर चोटिल हो गए थे. इसका ख़ुलासा ‘बाग़ी’ के निर्देशक सब्बीर ख़ान ने फ़िल्म के ट्रेलर लॉन्च पर किया.

सब्बीर ने कहा, "एक एक्शन सीन के दौरान जब टाइगर को श्रद्धा को बचाना था और साथ ही में एक्शन करना था, तब उनके पैर के ऊपरी भाग में चोट लग गई."

हालांकि, निर्देशक ने माना कि चोट इतनी गंभीर नहीं थी, लेकिन एक्शन वाक़ई में मुश्किल था.

मार्शल आर्ट्स और जिम्नॉस्टिक में पारंगत टाइगर की तुलना जब उनके पिता जैकी श्रॉफ़ से की गई, तो वे बोले, "पापा से कोई तुलना नहीं. वो बेस्ट हैं."

फ़िल्म ‘बागी’ में टाइगर अपनी बचपन की दोस्त अभिनेत्री श्रद्धा कपूर के साथ रोमांस करते नज़र आएंगे. शर्मीले टाइगर ने कहा कि इस बार रोमांस करना आसान रहा.

श्रद्धा और टाइगर की यह फ़िल्म 29 अप्रैल को रिलीज़ होगी.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार