रामू को 'वीरप्पन पर है पूरा भरोसा'

इमेज कॉपीरइट others

निर्देशक रामगोपाल वर्मा अपनी नई फ़िल्म 'वीरप्पन' के ट्रेलर के साथ एक बार फिर बॉक्स ऑफ़िस को हिलाने की तैयारी में हैं.

इस साल की शुरूआत में आई रामगोपाल की कन्नड़ फिल्म 'किलिंग वीरप्पन' को काफ़ी सराहना मिली.

अब रामू इस फ़िल्म को बॉलीवुड में बना रहे हैं लेकिन एक बड़े बजट के साथ.

रामू बताते हैं, "मैं जानता हूं मेरी पिछली फ़िल्में फ़्लॉप रही हैं लेकिन इस कहानी में और इस कैरैक्टर में मेरा पूरा भरोसा है. मुझे लगता है कि यह हिट रहेगा."

('वीरप्पन' का ट्रेलर देखने के लिए यहां क्लिक करें)

इमेज कॉपीरइट rgv films

वीरप्पन के बारे में रामू कहते हैं, "देखिए वो एक ऐसा आदमी था जिसे मारने में प्रशासन को 20 साल लग गए. इस बीच, इस चंदन तस्कर ने 97 पुलिस वालों, 184 नागरिकों और 900 हाथियों को मारा. इस काम के लिए वाकई हिंसक दिमाग और क्रूरता चाहिए."

वो आगे कहते हैं, "हमारी फ़िल्म इसी बात पर आधारित है कि वो कैसे हालात होते हैं जो एक आदमी में इतनी क्रूरता भर देते हैं कि वो वीरप्पन हो जाता है."

इस फ़िल्म के लिए किसी जाने माने सितारे को लेने की बजाए रामगोपाल वर्मा ने पारंपरिक तौर पर ऑडिशन लिए और वीरप्पन के रोल के लिए संदीप भारद्वाज को चुना जो दिल्ली के एनएसडी से प्रशिक्षित अभिनेता हैं.

रामू कहते हैं, "हम फ़िल्म में जाने माने चेहरे को ले लेते तो यह फ़िल्म वीरप्पन के बारे में न होकर उनके बारे में हो जाती जो हम नहीं चाहते थे."

इस फ़िल्म में लीसा रे, सचिन जोशी और वीरप्पन की पत्नी के किरदार में उषा जाधव मौजूद हैं.

रामू उषा के किरदार के बारे में हंसते हुए कहते हैं, "इस फ़िल्म को बनाते हुए मुझे एक बात समझ में आई है कि आदमी कितना ही खूंखार क्यों न हो जाए, गुस्से में भरी बीवी के आगे वीरप्पन की भी नहीं चलती."

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार