कराची में 'मोबाइल के साथ चिल्लाते पागल'

इमेज कॉपीरइट spice

बॉलीवुड निर्देशक कबीर ख़ान ने पाकिस्तान में अपने विरोध की ख़बरों पर ग़ुस्सा जताया है.

एक ट्वीट में उन्होंने कहा, "दोनों ही ओर के मीडिया के लिएः मोबाइल कैमरे के साथ चिल्लाते 12 पागल लोग ख़बर नहीं हैं. कृपया उन पर ध्यान न दें. उन्हें नज़रअंदाज़ करें."

इमेज कॉपीरइट kabirkhankk

मीडिया में आई रिपोर्टों के मुताबिक़ पाकिस्तान के कराची एयरपोर्ट पर भारतीय निर्देशक कबीर ख़ान के साथ कुछ लोगों ने बदतमीज़ी करने की कोशिश की थी और उन्हें जूता दिखाया था.

मिनहाज़ मर्चेंट (@minhazmerchant) ने ट्वीट किया, "फैंटम और बजरंगी भाईजान के निर्देशक कबीर ख़ान ने पाकिस्तान की मेहमाननवाज़ी का स्वाद चखा."

इमेज कॉपीरइट spice

पाकिस्तानी सोशल मीडिया में कबीर ख़ान के प्रति ग़ुस्सा भी ज़ाहिर किया जा रहा है.

ज़ैद हामिद (@SirZaidHamid) का ट्वीट था, "कराची एयरपोर्ट पर बॉलीवुड निर्देशक कबीर ख़ान पर जूता फेंका गया. अगर उन्हें पहले ही इसका अनुभव हो गया होता तो वो बजरंगी भाईजान न बनाते."

फ़रहान ख़ान विर्क (@FarhanKVirk) ने ट्विटर पर लिखा, "शर्म करो कबीर ख़ान. जिस देश के ख़िलाफ़ तुम नफ़रत फैलाते हो, उसी देश में तुम आ रहे हो."

इमेज कॉपीरइट SPICE

वहीं भारतीयों ने भी ऐसे ट्वीट्स का जवाब दिया है.

जे (@jdbalani) ने लिखा, "देखिए, कबीर ख़ान के साथ ऐसा होता है जब वह पाकिस्तान जाते हैं. फिर हम उनके कलाकारों का सम्मान क्यों करते हैं. यह शर्मनाक है. जागो इंडिया."

नवनीत मुंदड़ा ने लिखा, "कबीर ख़ान ने भारत-पाकिस्तान रिश्तों पर सबसे शानदार फ़िल्म बनाई. कुछ लोग उनका विरोध कर रहे हैं. यह शर्मनाक है."

मगर ऐसा नहीं है कि सभी पाकिस्तानी कबीर ख़ान का विरोध ही कर रहे हैं.

राबिया अनम (@RabiaAnumm) के मुताबिक़, "अगर आप शिवसेना का विरोध करते हैं पर कराची एयरपोर्ट पर जो हुआ उसका समर्थन करते हैं तो निश्चित रूप से आप कहीं न कहीं भ्रम में हैं."

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं

संबंधित समाचार