'बॉलीवुड को खा जाएंगी हॉलीवुड फ़िल्मे'

बॉलीवुड के साथ हॉलीवुड में भी अपनी दमदार उपस्थिति दर्ज़ करवाने वाले अभिनेता इरफ़ान ख़ान कहना है कि हॉलीवुड भारतीय फ़िल्मों को खा जाएगा.

'द नेमसेक', 'लाइफ ऑफ़ पाई', 'द माइटी हार्ट', 'द अमेजिंग स्पाइडरमैन' जैसी हॉलीवुड फ़िल्मों में काम कर चुके इरफ़ान ख़ान को भारतीय फ़िल्मी बाज़ार पर हॉलीवुड के हावी होने की चिंता सता रही है.

इमेज कॉपीरइट Spice PR

आनेवाली फ़िल्म 'मदारी' के बारे में इरफ़ान कहते हैं, ''यह सत्य घटना पर आधारित कहानी है, जिसमें एक आम आदमी भ्रष्ट तंत्र से परेशान होकर उसे बदलने के लिए, आतंकवादी बन जाता है. ''

वो आगे बताते हैं, ''इस फ़िल्म के ज़रिये मैं आम जनता, देश और सरकार को लेकर सचेत करना चाहता हूं और उन्हें यह भी कहना चाहता हूं कि आत्मसंतुष्ट ना बनें.''

इमेज कॉपीरइट Spice PR

जब इरफ़ान से हॉलीवुड के बढ़ते वर्चस्व के बारे में सवाल किया गया, तो वे बोले, ''यह तो अच्छा है. इससे नई पीढ़ी यूनिवर्सल फ़िल्में बनाने के लिए तैयार हो रही है.''

वहीं चिंता जताते हुए कहा,'' लेकिन हॉलीवुड इंडस्ट्री जिस तेज़ी बढ़ रही है, डर है कि कहीं भारतीय फ़िल्मों का व्यापार न खा जाए."

पहले की तुलना में अब भारतीय कलाकार हॉलीवुड का रूख़ करने लगे हैं.

इमेज कॉपीरइट Getty

ऐसे में जब इरफ़ान से कहा कि बॉलीवुड कलाकारों के लिए हॉलीवुड का दरवाज़ा आपने खोला है.

इस पर तपाक से बोले, "हर अभिनेता अपना दरवाज़ा ख़ुद खोलता है. मैंने किसी के लिए हॉलीवुड का दरवाज़ा नहीं खोला.''

वो कहते हैं कि उनके पास कुछ मौक़े आए, जिसमे उन्होंने कुछ ऐसा किया जिससे मेरा रास्ता हॉलीवुड के लिए खुल गया. लेकिन मैं दूसरों के हॉलीवुड में जाने का श्रेय नहीं ले सकता.

साल 2015 में आई फ़िल्म 'जज़्बा' में इरफ़ान के दमदार डायलॉंग की ख़ीसी चर्चा हुई थी.

इस पर वो कहते हैं, ''अब मेरे लिए भी दमदार डायलॉग लिखे जाने लगे हैं. मेरे डायलॉग को मैं दर्शकों के लिए आइटम नंबर बनाना चाहता हूं.''

इमेज कॉपीरइट Spice PR

निशिकांत कामत के निर्देशन में बनी फ़िल्म 'मदारी' यूं तो साल 2015 में रिलीज़ होने वाली थी, लेकिन रिलीज़ डेट खिसकते-खिसकते 15 जून तक आ गई है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार