ब्रितानी किशोरी की रेप-हत्या केस में फ़ैसला

इमेज कॉपीरइट FAMILT HO
Image caption ब्रिटेन से 15 साल की स्कारलेट कीलिंग 2008 में अपने परिवार के साथ गोवा घूमने आई थीं.

ब्रिटेन के डेवोन से एक मां भारत, गोवा की अदालत आई हैं. वे जानना चाहती हैं कि उनकी 15 साल की बेटी की हत्या किसने की.

स्कारलेट कीलिंग 2008 में गोवा के अंजुना समुद्र तट पर मृत पाई गई थी. उनके साथ बलात्कार और फिर हत्या हुई थी.

तब उनके साथ 25 साल के टूर गाइड और दोस्त जूलियो लोबो भी मौजूद थे. साथ गोवा घूमने आई मां और भाई-बहन कहीं यात्रा पर निकले हुए थे.

स्कारलेट की माँ फ़ियोना मैक्किओन तभी से अपनी बेटी के लिए न्याय की तलाश में हैं.

23 सितंबर को गोवा की अदालत में इस मामले में फैसला आने की उम्मीद है.

स्कारलेट की मां ने बीबीसी को अपने उस अपराधबोध के बारे में बताया जो बेटी की मौत के बाद से लगातार उन्हें सालता रहा है.

"बेशक मैं खुद को दोषी मानती हूं, लेकिन मैंने उसे नहीं मारा. मैंने कभी नहीं चाहा कि उसके साथ ऐसा हो."

वे कहती हैं, "मैंने उसे जाने दिया, इसलिए मैं दोषी हूं."

इमेज कॉपीरइट AFP
Image caption स्कारलेट की मां

स्कारलेट कीलिंग अपनी मां और चार भाई-बहनों के साथ 2008 के नवंबर में छह महीनों के लिए गोवा घूमने आई थी.

लेकिन, 18 फ़रवरी को उनकी लाश गोवा के अंजुना समुद्र तट पर अर्धनग्न हालत में पाई गई थी.

शुरू शुरू में तो गोवा की पुलिस का कहना था कि स्कारलेट दुर्घटनावश समुद्र के पानी में डूब गई थी. मां ने इसे गलत बताते हुए सच सामने लाने का लगातार अभियान चलाया.

इमेज कॉपीरइट FAMILY

तब दूसरी पोस्टमार्टम रिपोर्ट आई जिसमें ये पता चला कि स्कारलेट ने नशा किया था और उनका रेप और फिर हत्या कर दी गई थी. इसमें मौत का कारण समुद्र में डूबने को बताया गया.

तब दो लोगों पर हत्या के आरोप लगे. हालांकि उन्होंने आरोपों से इंकार किया. उनकी उम्र अब 34 और 46 साल हो चुकी है.

मार्च 2010 में गोवा के चिल्ड्रेन कोर्ट में उन दोनों पर मुकदमा चला.

इमेज कॉपीरइट AFP

हालांकि एक साल से कम समय में अभियोग पक्ष के वकील एसआर रिवोनकर ने इस्तीफा दे दिया था.

बाद में एक नए वकील को नियुक्त किया गया. शुक्रवार को इस मामले में फैसला आना है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)