पत्रकार हत्याकांड में शहाबुद्दीन, तेज प्रताप को सुप्रीम कोर्ट का नोटिस

इमेज कॉपीरइट FACEBOOK
Image caption पत्रकार राजदेव रंजन

सुप्रीम कोर्ट ने सिवान के पत्रकार राजदेव रंजन की हत्या के मुक़दमे में राष्ट्रीय जनता दल के पूर्व सांसद शहाबुद्दीन और बिहार के मंत्री तेज प्रताप यादव को नोटिस जारी किया है.

समाचार एजेंसी पीटीआई के मुताबिक़ अदालत ने उनसे दो हफ़्तों के भीतर जवाब मांगा है.

कोर्ट ने राजदेव की हत्या की जांच कर रही सीबीआई की जांच की स्टेटस रिपोर्ट 17 अक्टूबर तक जमा करने को कहा है.

Image caption राष्ट्रीय जनता दल के पूर्व सांसद मोहम्मद शहाबुद्दीन

13 मई को सिवान के एक दैनिक अख़बार के लिए काम कर रहे राजदेव रंजन की हत्या कर दी गई थी. वे अपने दफ़्तर से घर लौट रहे थे.

राष्ट्रीय जनता दल के पूर्व सांसद मोहम्मद शहाबुद्दीन कुछ दिनों पहले ज़मानत पर रिहा हुए हैं.

पत्रकार राजदेव रंजन हत्याकांड मामले में जेल से रिहाई के बाद शहाबुद्दीन के काफिले में एक अभियुक्त मोहम्मद कैफ़ के शामिल होने की खबरें आई थीं.

इमेज कॉपीरइट MANISH SHANDILYA

एक दूसरी तस्वीर में मोहम्मद कैफ़ लालू प्रसाद यादव के बड़े बेटे और बिहार के स्वास्थ्य मंत्री तेज प्रताप यादव को गुलदस्ता देते नज़र आ रहे हैं.

इस तस्वीर के आधार पर बिहार विधानसभा में विपक्ष ने तेज प्रताप यादव को मंत्रिमंडल से बर्खास्त करने की मांग की थी.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)