झारखंड- 'नक्सली' हमले में तीन ग्रामीणों की मौत

इमेज कॉपीरइट NEERAJ SINHA

झारखंड के नक्सल प्रभावित खूंटी ज़िले के रायटोनांग गांव में सोमवार को ग्रामसभा की बैठक पर हुए नक्सली हमले में तीन आदिवासियों की मौत हो गई और चार लोग घायल हो गए.

घायलों को इलाज के लिए सोमवार देर रात रांची लाया गया.

खूंटी के पुलिस अधीक्षक अनीश गुप्त ने बीबीसी से बात करते हुए दावा किया, "पीपुल्स लिब्रेशन फ़्रंट ऑफ़ इंडिया (पीएलएफआई) के हथियारबंद दस्ते ने घटना को अंजाम दिया. ग्राम सभा की बैठक में नक्सलियों ने अंधाधुध गोलीबारी की. इससे इलाक़े में दहशत है."

पुलिस अधीक्षक ने बताया कि उनकी फ़ोर्स तीनों शवों को लेकर जिला मुख्यालय आई है.

इमेज कॉपीरइट NEERAJ SINHA

पुलिस अधीक्षक ने बताया कि इलाक़े में तलाशी अभियान चलाया जा रहा है और ज़िला मुख्यालय से अतिरिक्त बलों को भेजा गया है.

जिस गांव में यह घटना घटी वो खूंटी से क़रीब 40 किलोमीटर और झारखंड की राजधानी रांची से 80 किमी दूर है.

पुलिस अधीक्षक ने बताया है कि ग्रामीण फसल की कटाई के बाद नवाखानी ( आदिवासी रीति से पूजा-पाठ) की तैयारियों के लिए बैठक कर रहे थे. जब हमला हुआ तो बाद लोग इधर-उधर भागने लगे.

ग्रामीण सोमवार देर रात घायलों को लेकर खूंटी पहुंचे. उनकी ख़राब हालत को देखते हुए उन्हें रांची भेज दिया गया.

इमेज कॉपीरइट NEERAJ SINHA

पुलिस के अनुसार डर की वजह से कई लोग जंगलों और पहाड़ों में छिप गए. इस वजह से शव रात भर गांव में ही रहे.

खूंटी-चाईबासा इलाक़े में नक्सलियों के खिलाफ ग्रामीण हाल के दिनों में शांति सभा का गठन कर बैठकें कर रहे हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)